Sports

कराची : मुख्य कोच और मुख्य चयनकर्ता मिसबाह उल हक को अपने सालाना मूल्यांकन के दौरान कुछ कड़े सवालों का सामना करना पड़ सकता है क्योंकि टीम का प्रदर्शन इंग्लैंड में काफी खराब रहा था लेकिन ऐसा लगता है कि उन पर पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) का भरोसा जारी रहेगा।

पिछले 12 महीनों में पाकिस्तान ने दो टेस्ट जीते हैं और तीन गंवायें हैं जबकि टीम ने तीन वनडे मैच (एक मैच बारिश की भेंट चढ़ गया) में से दो और 12 टी20 अंतरराष्ट्रीय मैचों (तीन बारिश के कारण धुल गए) में से तीन में जीत दर्ज की। हाल में टीम इंग्लैंड से टेस्ट श्रृंखला 0-1 से गंवा बैठी और टी20 श्रृंखला 1-1 से बराबर रही। कुछ पूर्व खिलाड़ियों को लगता है कि मिसबाह का बोझ कुछ कम करने के लिए उन्हें दो महत्वपूर्ण पदों से में से एक में राहत दे देनी चाहिए।

पीसीबी के चेयरमैन एहसान मनी ने कहा कि वे मिसबाह के साथ आगे के बारे में चर्चा करेंगे। उन्होंने ‘डॉन' को दिये साक्षात्कार में कहा, ‘मिसबाह से उनके और टीम के प्रदर्शन के बारे में पूछा जायेगा और भविष्य के लिए उनकी योजना क्या है। वह हमेशा ही अपने काम के प्रति जवाबदेह रहे हैं और उनकी मूल्यांकन प्रक्रिया के अंतर्गत पीसीबी क्रिकेट समिति उनसे साक्षात्कार करेगी।' 

.
.
.
.
.