Sports

कोलकाता: भारत की दिग्गज बैडमिंटन खिलाड़ी अश्विनी बोपन्ना ने सोमवार को देश में ‘मीटू’ अभियान का समर्थन करते हुए कहा कि अपने अनुभव साझा कर रही महिलाओं के साथ देना महत्वपूर्ण है। आनलाइन ‘मीटू’ अभियान में महिलाएं मीडिया और मनोरंजन जैसे विभिन्न क्षेत्रों के जाने माने लोगों के खिलाफ यौन उत्पीडऩ की कथित घटनाओं का खुलासा कर रही हैं। 
PunjabKesari
अश्विनी ज्वाला गुट्टा की पूर्व युगल जोड़ीदार हैं जिन्होंने आरोप लगाया था कि राष्ट्रीय टीम से ‘बाहर’ किए जाने से पहले एक खिलाड़ी के रूप में उन्होंने ‘मानसिक उत्पीडऩ’ का सामना किया। अश्विनी ने कहा,  ‘भारत जैसे देश में आपको कड़ा और साथ ही सतर्क होने की भी जरूरत है। यह महत्वपूर्ण है कि आप उनके साथ खड़े हों, उनकी बात सुनें और उन्हें मजबूती और साहस दें। अपना नजरिया सभी लोगों के सामने रखना आसान नहीं होता।
PunjabKesari
इस खिलाड़ी ने कहा कि वह भाग्यशाली हैं कि उनके साथ इस तरह की कोई घटना नहीं हुई। उन्होंने कहा,  ‘मैंने जो भी चीजें पढ़ी और जो हुआ वे काफी दुर्भाग्यपूर्ण है। लेकिन मैं सिर्फ इतना कह सकती हूं कि इस संबंध में मैं भाग्यशाली हूं कि मेरे पास शिकायत करने या कहने के लिए अधिक कुछ नहीं है।’ अश्विनी यहां पहली बैडमिंटन एक्सप्रेस लीग के प्रचार के लिए आई थी। इस एमेच्योर प्रतियोगिता में छह टीमें खिताब के लिए चुनौती पेश करेंगी जिसमें प्रत्येक में 14 खिलाड़ी होंगे। यह टूर्नामेंट 28 नवंबर से दो दिसंबर तक खेला जाएगा।      

.
.
.
.
.