Sports

नई दिल्ली : टेनिस हॉल ऑफ फेमर मार्टिना हिंगिस का कहना है कि डब्ल्यूटीए और एटीपी को विलय कर लेना चाहिए इससे टेनिस प्लेयर और मजबूत होंगे। पांच बार के ग्रैंड स्लैम चैंपियन ने कहा कि अगर यह विलय हो तो सबसे ज्यादा रैंकिंग वाली महिला टेनिस खिलाडिय़ों को इसका फायदा होगा। बीते दिनों फेडरर ने सुझाव दिया था कि पुरुषों और महिलाओं के दौरे को एक बॉडी के नीचे करना चाहिए। स्विस स्टार ने कहा था कि पुरुषों और महिलाओं को एकसाथ लाने का यह अच्छा मौका है। कोविड -19 महामारी के दौरान ऐसा किया जा सकता है। 

वहीं, हिंगिस ने फैडरर के तर्क का समर्थन किया। साथ ही कहा- यह उतना आसान नहीं है जितना लगता है। ग्रैंड स्लैम टूर्नामेंट पुरुषों और महिलाओं दोनों के लिए समान पुरस्कार राशि प्रदान करते हैं, लेकिन छोटे टूर्नामेंट में अभी भी असमानता है। मैं इसे (विलय) सकारात्मक रूप से देखूंगी। संघ के पास टूर्नामेंट आयोजकों की तुलना में एक मजबूत स्थिति होगी।

.
.
.
.
.