Sports

नॉर्वे ( निकलेश जैन ) विश्व शतरंज चैम्पियन नॉर्वे के मेगनस कार्लसन नें एक बार फिर विश्व शतरंज में अपनी बादशाहत साबित करते हुए  अपने खेल का परचम लहरा दिया है और यह बात साबित कर दी है की इनके सामने कोई भी खिलाड़ी प्ले ऑफ मुकाबलों मे टिक नहीं पाता है चाहे बात ऑन द बोर्ड शतरंज की हो या ऑनलाइन शतरंज की ।  एक बार फिर लिजेंड्स ऑफ चैस टूर्नामेंट के फाइनल में मेगनस  कार्लसन का कातिलाना अंदाज देखने को मिला और उन्होने रूस के इयान नेपोंनियची को लगातार दो दिन फाइनल में हराते हुए खिताब अपने नाम कर लिया । कार्लसन नें पहले दिन 4-2 से पहला फाइनल जीता था और दूसरे दिन उन्होने 2.5-0.5 के बड़े अंतर से मात देते हुए नेपोंनियची को कभी भी वापसी का मौका नहीं दिया और 45000 अमेरिकन डॉलर की पुरुष्कार राशि पर कब्जा कर लिया ।

पहले मैच में आक्रमण करने को कोशिश में काले मोहरो से खेलते हुए नेपो किंग्स इंडियन डिफेंस में कभी भी सही योजना नहीं बना सके और कार्लसन का आक्रमण इतना तेज हो गया की  मात्र 27 चालों में उन्हे हार का सामना करना पड़ा और कार्लसन 2-0 से आगे हो गए ।

दूसरे  मुक़ाबले में मेगनस कार्लसन नें एक बार फिर नजडोर्फ का सहारा लिया और एक बेहद ही उलझे हुए मुक़ाबले में उन्होने बेहतरीन बचाव और शानदार आक्रमण के दम पर 76 चाल चले मुक़ाबले में जीत हासिल की  और 2-0 से आगे हो गए ।

तीसरे मुक़ाबले में सफ़ेद मोहरो से खेलते हुए कार्लसन नें नेपो के पिर्क डिफेंस खेलने के चुनाव को ओपेनिंग में ही असफल करते हुए खेल को आसान ड्रॉ की और मोड दिया और 2.5-0.5 से ना सिर्फ दूसरा फाइनल जीता बल्कि खिताब भी अपने नाम कर लिया ।

PunjabKesari

 

.
.
.
.
.