Sports

नई दिल्ली : टीम इंडिया के पूर्व विकेटकीपर बल्लेबाज किरन मोरे 57 साल के हो गए हैं। मोरे को उनके टेस्ट क्रिकेट की एक पारी में छह बल्लेबाजों को स्टंप आऊट करने के लिए जाना जाता है। गुजरात के वडोदरा में जन्मे किरन शंकर मोरे ने भारत की ओर से 1986 में पहला टेस्ट खेला था। हालांकि इससे 2 साल पहले ही वह 1984 में अपना वनडे डैब्यू कर चुके थे। 1998 में उन्होंने वेस्टइंडीज के खिलाफ टेस्ट की एक पारी में छह स्टंप आऊट कर सबको चौका दिया था। 

जावेद मियांदाद के कारण भी किया जाता है याद

Birthday special : Kiren more have records of most stumping in one innings in test
किरन मोरे को पाकिस्तानी क्रिकेटर जावेद मियांदाद के कारण भी जाना जाता है। दरअसल 1992 क्रिकेट विश्व कप के दौरान विकेट के पीछे खड़े किरन मोरे लंबे समय से मियांदाद के साथ छींटाकशी कर रहे थे। इस बात का पता तब चला जब मियांदाद ने पिच पर उछलना शुरू कर दिया। क्रिकेट जगत में इस घटना की खूब चर्चा हुई थी।

मुंबई इंडियंस के लिए ढूंढते हैं टेलेंट

Birthday special : Kiren more have records of most stumping in one innings in test
किरन मोरे अभी आईपीएल में मुंबई इंडियंस के लिए टैलेंट ढूंढने का काम करते हैं। हालांकि प्रबंधन में उनका तजुर्बा पहले से ही रहा है। वह 2002 से 2006 तक भारतीय सिलेक्टर्स कमेटी के चेयरमैन भी रहे। उनकी नाम पर किरन मोरे क्रिकेट अकादमी भी चलती है जिसकी शुरुआत उन्होंने 1997 में की थी।

किरन मोरे का रिकॉर्ड


टेस्ट क्रिकेट : 49 टेस्ट, 1285 रन, 25.70 औसत, 7 अर्धशतक, 110 कैच/20 स्टंपिंग
वनडे क्रिकेट : 94 टेस्ट, 563 रन, 13.09 औसत, 42 सर्वश्रेष्ठ, 63 कैच/27 स्टंपिंग
प्रथम श्रेणी : 151 मैच, 5223 रन, 31.08 औसत, 181 सर्वश्रेष्ठ, 303 कैच/63 स्टंपिंग

.
.
.
.
.