Sports

नई दिल्ली: अंजुम मोदगिल, अपूर्वी चंदेला और इलवेनिल वेलाराइवन आईएसएसएफ निशानेबाजी विश्व कप के पहले दिन शनिवार को यहां महिलाओं की दस मीटर एयर राइफल में भारतीय चुनौती की अगुवाई करेंगी। प्रतिभाशाली मेहुली घोष भी डा. कर्णी सिंह रेंज पर न्यूनतम क्वालीफिकेशन स्कोर (एमक्यूएस) हासिल करने की कोशिश करेगी। 

PunjabKesari
भारत की ये चारों निशानेबाज 44 देशों की उन 102 प्रतिभागियों में शामिल हैं जो महिलाओं की दस मीटर स्पर्धा में अपना भाग्य आजमाएंगी। मोदगिल और चंदेला ने भारत को पिछले साल सितंबर में विश्व चैंपियनशिप में इस स्पर्धा में दोनों ओलंपिक कोटा दिलवा दिए थे। अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति (आईओसी) ने पाकिस्तानी निशानेबाजों को वीजा नहीं दिए जाने के कारण 25 मीटर रैपिड फायर पिस्टल में दो ओलंपिक कोटा हटा दिये हैं और इस तरह से अब इस टूर्नामेंट में 14 कोटा दांव पर लगे होंगे।

चैंपियनशिप में 60 देशों के लगभग 500 निशानेबाज हिस्सा ले रहे हैं जिनमें भारत के 23 निशानेबाज शामिल हैं। पुरूषों की 25 मीटर रैपिड फायर पिस्टल और 10 मीटर एयर राइफल और एयर पिस्टल मिश्रित टीम स्पर्धाओं के अलावा इस 5 दिवसीय प्रतियोगिता की बाकी सात स्पर्धाओं में से प्रत्येक में दो ओलंपिक कोटा दांव पर लगे हैं। भारत महिलाओं की दस मीटर एयर राइफल में पहले ही दो कोटा हासिल कर चुका है और ऐसे में वह पदक जीतने के अलावा बाकी छह स्पर्धाओं में 12 ओलंपिक कोटा हासिल करने की भी कोशिश करेगा।

.
.
.
.
.