Sports

नई दिल्ली : जापान में ओलंपिक टेस्ट इवेंट जीत चुकी भारतीय पुरुष और महिला हॉकी टीमों को अक्टूबर-नवंबर में होने वाले टोक्यो ओलंपिक के क्वालीफायर टूर्नामेंट में किन टीमों से भिडऩा है, इसका फैसला नौ सितंबर को स्विटजरलैंड के लुसाने में होने वाले ड्रा से होगा। एफआईएच ओलंपिक क्वालीफायर के मैचों को निर्धारित करने के लिए ड्रा नौ सितंबर को लुसाने में निकाला जाएगा। इस ड्रा का आयोजन अंतररष्ट्रीय हॉकी महासंघ (एफआईएच) के सीइओ थियरे वेल करेंगे। इस ड्रा में 14 पुरुष और 14 महिला टीमों शामिल होंगी।

ओलंपिक क्वालीफायर 25 से 27 अक्टूबर और एक से तीन नवंबर तक होंगे। मैच कार्यक्रम और स्थलों की पुष्टि नौ सितंबर के ड्रा के बाद होगी। ओलंपिक क्वालीफायर में दो टीमें आपस में एक के बाद एक दो मैच खेलेंगी। इन टीमों को आठ सितंबर की विश्व रैंकिंग के आधार पर तय किया जाएगा।

Indian hockey team will go to Olympics or not, will be decided on 9th

मैचों की मेजबानी दो भिडऩे वाली टीमों में सर्वाधिक रैंक वाली टीम करेगी। एफआईएच के अनुसार मेजबान पुरुष टीमों में ऑस्ट्रेलिया, हालैंड, भारत, जर्मनी, ब्रिटेन, स्पेन, न्यूजीलैंड और कनाडा को एक से आठ तक की रैंकिंग पर रखा गया है।

ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड में से ओसनिया कप की विजेता टीम सीधे टोक्यो ओलंपिक के लिए क्वालीफाई कर जाएगी और मेजबान टीमों का ग्रुप आठ सितंबर को सात टीमों का रह जाएगा। ओसनिया कप के परिणाम के आधार पर आठ सितंबर को रैंकिंग में कुछ फेरबदल हो सकता है। पुरुष वर्ग में बाहरी टीमों में मलेशिया, फ्रांस, आयरलैंड, कोरिया, पाकिस्तान, ऑस्ट्रिया और मिस्त्र को नौ से 15 तक की रैंकिंग में रखा गया है।

Indian hockey team will go to Olympics or not, will be decided on 9th

क्वालीफायर टूर्नामेंट का जब ड्रा निकाला जाएगा तो पहली, दूसरी और तीसरी रैंकिंग की टीमों को 12वीं, 13वीं और 14वीं रैंकिंग की टीमों में से किसी एक से भिडऩा पड़ सकता है। भारतीय पुरुष टीम का मुकाबला कोरिया, पाकिस्तान या ऑस्ट्रिया में से किसी एक से हो सकता है।

भारत ने एशियाई खेलों का स्वर्ण पदक जीतकर पिछले रियो ओलंपिक के लिए सीधे क्वालीफाई किया था लेकिन 2018 के जकार्ता एशियाई खेलों में भारत को सेमीफाइनल में मलेशिया से सडन डेथ में हार का सामना करना पड़ा था जिसके बाद उसे ओलंपिक क्वालीफाइंग टूर्नामेंट से गुजरना पड़ रहा है।

Indian hockey team will go to Olympics or not, will be decided on 9th

एफआईएच की ड्रा रैंकिंग में चौथे, पांचवें, छठे और सातवीं नंबर की टीमों को आठवीं, नौंवीं, 10वीं और 11वीं रैंकिंग की टीमों में से किसी एक से भिडऩा पड़ सकता है। महिला वर्ग में ऑस्ट्रेलिया, जर्मनी, ब्रिटेन, स्पेन, न्यूजीलैंड, आयरलैंड, भारत और चीन एक से आठ रैंकिंग के आधार पर मेजबान टीमें है जबकि कोरिया, बेल्जियम, अमेरिका, कनाडा, इटली, चिली और रुस नौ से 15 रैंकिंग के आधार पर बाहरी टीमें हैं।

भारतीय महिला टीम को एशियाई खेलों के फाइनल में जापान से हार का सामना करना पड़ा था जिसके बाद उसे भी क्वालीफाइंग दौर से गुजरना पड़ रहा है। महिला टीम का क्वालीफायर टूर्नामेंट में कनाडा, इटली, चिली और रुस में से किसी एक से मुकाबला हो सकता है।

Indian hockey team will go to Olympics or not, will be decided on 9th

टोक्यो ओलंपिक के लिए अब तक अपनी संबंधित महाद्वीपीय चैंपियनशिप जीतकर अर्जेंटीना (पुरुष और महिला), दक्षिण अफ्रीका (पुरुष और महिला), बेल्जियम (पुरुष) और हालैंड (महिला) क्वालिफाई कर चुके हैं। इनके साथ ओसनिया कप के पुरुष और महिला विजेता जुड़ेंगे। ओसनिया कप पांच से आठ सितंबर तक ऑस्ट्रेलिया में खेला जाएगा।

टोक्यो ओलंपिक का मेजबान जापान दोनों ही वर्गों में मेजबान होने के नाते जगह बना चुका है। जापान ने एशियाई खेलों के दोनों वर्गों में स्वर्ण पदक जीते थे। टोक्यो ओलंपिक का हॉकी टूर्नामेंट 25 जुलाई से सात अगस्त तक खेला जाएगा जिसमें 12 पुरुष और 12 महिला टीमें हिस्सा लेंगी।

.
.
.
.
.