Sports

युवा भारतीय शतरंज टीम कप्तान विदित गुजराती की पंजाब केसरी से खास बातचीत

नासिक ,महाराष्ट्र ( निकलेश जैन ) भारतीय शतरंज टीम फीडे ऑनलाइन शतरंज ओलंपियाड में इतिहास रचने के मुहाने पर खड़ी है , टीम नें ग्रुप चरण में वर्तमान ओलंपियाड विजेता चीन जैसी टीम को हराकर सीधे क्वाटर फाइनल में जगह बनाई है । ऐसे में पहली बार भारतीय टीम के कप्तान बनाए गए 25 वर्षीय भारतीय ग्रांड मास्टर विदित गुजराती नें क्वाटर फाइनल मैच जो की अर्मेनिया और ग्रीस के विजेता से होने है ,के पहले पंजाब केसरी से बात की !

भारतीय टीम के शानदार प्रदर्शन पर एक कप्तान होने के नाते आप क्या कहेंगे ?

मैं बहुत खुश हूँ अब तक जिस तरह टीम नें प्रदर्शन किया है ,पूरी टीम अच्छा खेली है ,तो रिजर्व खिलाड़ी है वो भी जब जब खेले है उन्होने खुद को साबित किया है , अपनी टीम के सभी सदस्यों के खेल को देखकर बहुत खुशी है

PunjabKesari

आपकी टीम मे विश्वनाथन आनंद भी है तो निहाल ,प्रग्गा जैसे खिलाड़ी भी तो आप अब तक का अनुभव कैसा रहा है ?

एक कप्तान की तरह मेरा अनुभव बहुत ही रोचक रहा है ,सभी खिलाड़ियों के बीच तालमेल बनाना ,मुझे काफी बाते सीखने को भी मिली है  जैसे की कप्तानी एक बड़ी ज़िम्मेदारी है और आपको कभी कभी कठिन निर्णय भी लेने पड़ते है । अच्छी बात है की मैं टीम के सभी सदस्यों को अच्छे से जानता हूँ और वो बेहद सहयोगी है तो अब तक मुझे कोई भी परेशानी का सामना नहीं करना पड़ा है और अच्छे ही अनुभव हुए है ,निहाल और प्रग्गानंधा बहुत ही  मेहनती है । जब भी मुझे कोई मदद की जरूरत पड़ती है मैं विश्वनाथन आनंद से जरूर सलाह लेता हूँ ,हरीकृष्णा से भी सलाह लेता हूँ तो टीम मे आपस मे स्वस्थ्य बातचीत का माहौल है ।

PunjabKesari

आने वाले मैच के लिए क्या तैयारी है ?

क्वाटर फाइनल मे हमारा मैच ग्रीस और अर्मेनिया मे से जीतने वाली टीम से होना है और हमारी तैयारी जारी है , मैं टीम के साथ भी हम किस तरह से खेलेंगे इस पर बात कर रहा हूँ तो खुद के खेल पर भी काम कर रहा हूँ । मैं कह सकता हूँ की हमारी टीम काफी प्रेरित है और जितनी भी कोशिश हम कर सकते है हम कर रहे है ।

PunjabKesari

शतरंज को इस लॉकडाउन में जो बढ़ावा मिला है उसके बारे मे क्या कहेंगे ?

लॉक डाउन में शतरंज को काफी लोकप्रियता मिली है ,और मुझे काफी खुशी है की सब लोग अच्छा काम कर रहे है ।

विदित के अलावा भारतीय टीम में विश्वनाथन आनंद ,पेंटाला हरिकृष्णा ,कोनेरु हम्पी ,हरिका द्रोणावल्ली ,भक्ति कुलकर्णी ,आर वैशाली ,निहाल सरीन ,प्रग्गानंधा ,दिव्या देशमुख और वन्तिका अग्रवाल शामिल है ।

.
.
.
.
.