Sports

नई दिल्ली: पूर्व कप्तान बाइचुंग भूटिया ने कहा है कि भारतीय फुटबाॅल टीम के पास यूएई में होने वाले एएफसी एशियन कप के नॉकआउट दौर में जगह बनाने का बराबरी का मौका रहेगा। 42 वर्षीय पूर्व फुटबाॅलर और राजनेता भूटिया ने 107 मैचों में भारतीय टीम का प्रतिनिधित्व किया था और करियर में 42 गोल किए हैं। वह देश के सबसे सफल फुटबाॅलरों में शामिल रहे हैं। भारत यूएई में शुरू होने वाले एएफसी एशियन कप के पूल ए में मेजबान यूएई, थाईलैंड और बहरीन के साथ शामिल है और उसका पहला मैच थाईलैंड के साथ 6 जनवरी को होगा।
sports news, Football news in hindi, Former captain Baichung Bhutia, Indian football team, AFC Asian Cup, Knockout Round, Will have a chance to equalize
सिक्किम के स्टार खिलाड़ी भूटिया ने सुनील छेत्री की कप्तानी में भारत के एशियन कप में प्रदर्शन को लेकर पूछे जाने पर कहा, ‘हमारी टीम थाईलैंड, यूएई और बहरीन के साथ ग्रुप में है। मुझे लगता है कि ऐसे में हमारे पास 50-50 मौका है कि हम नॉकआउट में जगह बना पाएंगे। हमारी टीम की मेहनत और थोड़े से भाग्य के साथ यह संभव हो सकेगा।’ उन्होंने कहा, ‘मैं टीम से अपील करूंगा कि वह अपनी तरफ से पूरी मेहनत करे और कोई मौका हाथ से न जाने दे। सभी खिलाड़ी इस बड़े टूर्नामेंट में खेलने का पूरा मौका उठाए।’
sports news, Football news in hindi, Former captain Baichung Bhutia, Indian football team, AFC Asian Cup, Knockout Round, Will have a chance to equalize
भूटिया ने वर्ष 2011 के कतर एएफसी एशियन कप क्वालिफिकेशन को लेकर अनुभव के बारे में कहा, ‘वह बहुत अच्छा था लेकिन मेरी निजी अनुभव अच्छा नहीं रहा क्योंकि मैं अनफिट था और आखिरी मैच में कुछ मिनट ही खेल सका। एशिया की कुछ बेहतरीन टीमों के खिलाफ खेलना बहुत मजेदार होता है और जरूरी है कि हम इस स्तर पर बने रहें।’ उन्होंने कहा, ‘मुझे हालांकि इस बात का दुख नहीं है, मैं केवल खुश हूं कि 27 साल के लंबे अर्से बाद हमने क्वालीफाई किया था। मेरे लिए यह दुर्भाग्य रहा कि मैं टीम के साथ अधिक देर तक नहीं रह सका।’

.
.
.
.
.