Sports

ढाका : गत चैम्पियन भारत दक्षिण एशिया फुटबाल महासंघ (सैफ) कप में बुधवार को बंगबंधु राष्ट्रीय स्टेडियम में श्रीलंका के खिलाफ अपने अभियान की शुरूआत जीत से करना चाहेगा। भारतीय टीम में स्ट्राइकर सुमीत पस्सी के अलावा सभी खिलाड़ी अंडर-23 टीम के हैं और टीम यहां एक महीने की लंबी तैयारी के बाद पहुंची है। भारतीय टीम की मौजूदा फीफा रैंकिंग 96 है और दोनों देशों के बीच खेले गए 22 मुकाबलों में उसने 15 में जीत दर्ज की है। श्रीलंका ने भारत पर सबसे यादगार जीत 1995 में सैफ चैम्पियनशिप के फाइनल में दर्ज की थी। उस समय इस टूर्नामेंट का नाम दक्षिण एशिया गोल्ड कप था।

टीम के मुख्य कोच स्टीफन कान्सटेनटाइन ने कहा- हम ऑस्ट्रेलिया में बहुत ही प्रभावशाली शिविर से यहां आ रहे हैं। जैसा की हमने पहले भी कहा है कि वहां हमें तीन अलग तरह के मैच खेलने को मिले और हमारे खिलाडिय़ों ने खुद को साबित करने के लिए कड़ी मेहनत की। उन्होंने कहा- टूर्नामेंट में कुछ अच्छी टीमों के खिलाफ खेलना हमारे लिए असली चुनौती होगी और खुद को परखने का यह सर्वश्रेष्ठ मौका है।

उन्होंने कहा कि भारत के पास सुनील छेत्री, जेजे लालपेखलुआ और बलवंत सिंह के अलावा ज्यादा स्ट्राइकर नहीं हैं। उन्होंने कहा- इसके बाद फारूख, मनवीर, पस्सी आते हैं जिनके पास अंतरराष्ट्रीय मैचों का कम अनुभव है। हमें भारतीय टीम में ज्यादा स्ट्राइकरों की जरूरत है और इन खिलाडिय़ों ने अपनी क्षमता दिखाई है। पस्सी के बारे बात करें तो एएफसी एशियाई कप की टीम में शामिल होने का उसके पास भी उतना ही मौका होगा जितना किसी दूसरे खिलाड़ी के पास होगा।

श्रीलंका के नव नियुक्त कोच निजाम पाक्कीर अली ने कहा कि बुधवार को ‘‘बेहतर टीम’’ के पास जीत के ज्यादा मौके होगे। उन्होंने कहा- मैच शुरू होने के बाद कोई दावेदार नहीं रहता है और अच्छी टीम जीत दर्ज करती है। यह जरूरी है कि हम अपने अभियान की शुरूआत सकारात्मक नतीजे से करें और हम इसके लिए तैयार हैं। उन्होंने कहा- नाकआउट चरण में भारत का समाना करने से अच्छा है कि हम टूर्नामेंट के शुरूआत में उनके खिलाफ खेलेंगे। टूर्नामेंट का यह 12वां सत्र है और अब तक खेले गए 11 सत्रों में से भारतीय टीम सात बार विजेता रही है।

.
.
.
.
.