Sports

 

कोलकाता : एशियाई चैम्पियन कतर के खिलाफ गोलरहित ड्रा से उत्साहित भारतीय टीम ग्रुप ई के दूसरे दौर में मैच में मंगलवार को बांग्लादेश के खिलाफ उतरेगी तो उसका इरादा फीफा विश्व कप क्वालीफायर में पहली जीत दर्ज करने का होगा। भारत ने कतर जैसी आक्रामक टीम को गोलरहित ड्रा पर रोककर क्वालीफायर में पहले अंक हासिल किए। पहले मैच में उसे ओमान ने हराया था।

नौ साल बाद सीनियर पुरूष टीम का कोई मैच कोलकाता में होने जा रहा है लिहाजा इसे लेकर दीवानगी चरम पर है। साल्टलेक स्टेडियम खचाखच भरा रहना तय है और ऐसे में इगोर स्टिमक की टीम पूरे तीन अंक लेकर विश्व कप की उम्मीदें कायम रखने की कोशिश में होगी। डिफेंडर संदेश झिंगन बाएं घुटने में चोट के कारण इस मैच से बाहर है लेकिन पिछले मैच से बाहर रहे कप्तान सुनील छेत्री की वापसी से मेजबान के हौसले बुलंद है। छेत्री ने अपने पिछले मैच में 72वां अंतरराष्ट्रीय गोल दागा था जिसमें भारत को ओमान ने 1.2 से शिकस्त दी थी।

छेत्री की जगह कप्तानी करने वाले गोलकीपर गुरप्रीत सिंह संधू ने कतर के खिलाफ कम से कम 11 हमले बचाए। डिफेंस, टीम संयोजन और अनुशासन के चलते भारतीय टीम ने कतर जैसी टीम के सामने एक अंक बनाया। अब फीफा रैंकिंग में अपने से 83 पायदान नीचे काबिज बांग्लादेश के खिलाफ वह पूरे अंक लेना चाहेंगे। फारवर्ड पंक्ति में नजरें छेत्री पर होंगी जिनका साथ बलवंत सिंह और मनवीर सिंह देंगे। पूर्व कप्तान बाईचुंग भूटिया ने कहा, ‘सुनील ही गोल कर सकता है। ऐसे में अगर वह नहीं खेल रहा है या गोल नहीं कर पाता तो काफी मुश्किल हो जाएगी। फारवर्ड पंक्ति को बेहतर प्रदर्शन करना होगा।' 

छेत्री को बेंगलुरू एफसी के साथी उदांता सिंह और आशिक कुरूनियन से भी अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद होगी। डिफेंस में अनस ई और आदिल खान की भूमिका अहम होगी। झिंगन की गैर मौजूदगी में अनस की जिम्मेदारी बढ गई है। बांग्लादेश की टीम दो मैच लगातार हारकर आई है। उसे अफगानिस्तान और कतर ने हराया लेकिन दोनों मैचों में जैमी डे की टीम ने कई मौके बनाए। कागजों पर भारत का पलड़ा भारी लग रहा है जिसने बांग्लादेश के खिलाफ 28 मैचों में से 15 जीते और दो हारे लेकिन पिछली बार सैफ चैम्पियनशिप 2013 और 2014 में अंतरराष्ट्रीय दोस्ताना मैच में बांग्लादेश ने उसे ड्रा पर रोका था। मैच शाम 7.30 से होगा। 

 

.
.
.
.
.