Sports

स्पोर्ट्स डेस्क : राॅयल चैलेंजर्स बेंगलुरु के खिलाफ खेले गए मैच में मुंबई इंडियंस को सुपर ओवर में हार का सामना करना पड़ा। मैच टाई होने के बाद मुंबई ने पहले बल्लेबाजी करते हुए हार्दिक पांड्या और कीरोन पोलार्ड को उतरा और टीम मात्र 7 रन ही बना पाई। अब मुंबई के पांड्या को भेजने पर सुनील गावस्कर ने अपनी भड़ास निकाली और कहा कि उन्होंने इशान किशन को बल्लेबाजी करने क्यों नहीं भेजा। 

गावस्कर ने कमेंट्री के दौरान कहा, सुपर ओवर में कुछ भी योजना बनाने के लिए ज्यादा समय नहीं है। सबसे खराब हिस्सा कप्तान और कोच के पास होता है जो 15 लोगों को बताते हैं कि उन्हें क्या करना है। अगर 8 की 18 होता तो आरसीबी ने बाएं हाथ के बल्लेबाज शिवम दूबे को भेजा होता। 

उन्होंने कहा, अगर यह 40 ओवर का खेल होता, तो ईशान किशन अभी भी बाहर जाकर बल्लेबाजी करना चाहते क्योंकि फॉर्म इतनी चंचल चीज है कि यह उसी तरह चल सकती है। तो हां, मुझे लगता है कि ईशान किशन को आना चाहिए था क्योंकि यह सिर्फ 6 डिलीवरी (गेंदों) की बात थी। 

गौर हो कि इशान और पोलार्ड की वजह से मुंबई ने आरसीबी से मिले 202 के लक्ष्य को भेदने में पूरी कोशिश की और अंत में मैच टाई करवा दिया। इसके बाद मुंबई ने पहले बल्लेबाजी करते हुए मात्र 7 रन बनाए और यही उतरी हार की वजह बना। आरसीबी की तरफ से विराट कोहली और एबी डीविलियर्स ने सुपर ओवर में मैच को अपने नाम कर टीम को जीत दिला दी। 

.
.
.
.
.