Sports

स्पोर्ट्स डेस्क : पूर्व भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के 15 अगस्त को शाम 7.29 पर संन्यास की घोषणा के बाद हर कोई उन्हें जीवन की नई पारी के लिए शुभकामनाएं दे रहा है। ऐसे में क्रिकेट जगत से जुड़े लोग उनके साथ जुड़े किस्से साझा कर रहे हैं। ऐसे में भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष ने एन श्रीनिवासन ने खुलासा करते हुए कहा कि 2011 वर्ल्ड कप के बाद धोनी को कप्तानी से हटाने की मांग हो रही थी लेकिन उन्होंने धोनी की कप्तानी बचाई थी। 

श्रीनिवासन ने कहा, 2011 में भारत ने विश्व कप जीता था और उसके बाद ऑस्ट्रेलिया में हमने टेस्ट में अच्छा प्रदर्शन नहीं (4-0 से हार) किया। चयनकर्ताओं में से एक ने धोनी को वनडे की कप्तानी से हटाना चाहा था। मैंने कहा, उन्होंने कुछ महीने पहले ही विश्व कप जीता था, आप उन्हें एकदिवसीय कप्तान के रूप में कैसे हटा सकते हैं? चयनकर्ताओं ने यह भी नहीं सोचा था कि उनकी जगह कौन लेगा। एक चर्चा हुई और फिर औपचारिक बैठक से पहले मैंने कहा कि यह कोई तरीका नहीं है। 

पूर्व अध्यक्ष ने कहा, उस दिन छुट्टी थी और मैं गोल्फ खेलकर वापस आया। उस समय के बीसीसीआई सचिव संजय जगदाले ने मुझे बताया कि सर वे (चयनकर्ता) धोनी को कप्तान चुनने से इनकार कर रहे हैं। वे उसे टीम में लेंगे। तब मैं गोल्फ कोर्स से सीधा बैठक में पहुंचा। मैंने कहा कि एमएस धोनी ही कप्तान होंगे। मैंने बीसीसीआई अध्यक्ष के रूप में अपने सभी अधिकारों का इस्तेमाल किया। 

गौर हो कि धोनी ने एक साल से ज्यादा वक्त तक क्रिकेट से दूर रहने के बाद संन्यास की घोषणा की और अब वह 19 सितम्बर से यूएई में शुरू होने वाले आईपीएल 2020 में चेन्नई सुपर किंग्स की कप्तानी करते हुए दिखाई देंगे। 

खेल से जुड़ी खबरें पढ़ने के लिए ज्वाइंन करें हमारा ऑफिशियल व्हाट्सएप ग्रुप- https://chat.whatsapp.com/EdZ7XI6SKwTCv6SzTbciZx

.
.
.
.
.