Sports

नई दिल्ली : बीते दिनों मुरली विजय और करुण नायर को बिना खिलाए टीम से बाहर बिठाने पर खूब विवाद हुआ था। अब टीम इंडिया के एक और क्रिकेटर केदार जाधव ने बीसीसीआई के चयन प्रक्रिया संबंधी नियमों को लेकर हैरानगी जाहिर की है। चोट के बाद फिट हुए केदार जाधव को उम्मीद थी कि वेस्टइंडीज के खिलाफ बाकी बचे 3 वनडेे के लिए उन्होंने टीम में जगह दी जाएगी लेकिन ऐसा हुआ नहीं। अब केदार ने कहा है कि उन्हें टीम से बाहर रखने को लेकर कोई जानकारी नहीं दी गई।

PunjabKesarisports kedar Yadhav

देवधर ट्राफी में भारत-ए की तरफ से खेलते हुए 25 गेंद में नाबाद 41 रन तो पांच अच्छे फैंकने के बाद भी नदरअंदाज हुए केदार ने कहा कि मुझे इसकी जानकारी नहीं है। पत्रकारों द्वारा उक्त सवाल पूछने पर पुणे के इस 33 साल के खिलाड़ी ने कहा- देखते हैं क्या होता है। मुझे यह बताने वाले आप पहले व्यक्ति हैं। मुझे यह देखने कि जरूरत है कि उन्होंने मुझे क्यों नहीं चुना। मैं टीम में नहीं था इसलिए मुझे नहीं पता कि क्या योजना है। संभवत: मैं रणजी ट्राफी में खेलूंगा।

PunjabKesarisports Kedar yadhav

बता दें कि खिलाडिय़ों के साथ संवादहीनता के अभाव के कारण चयनकर्ता पहले ही निशने पर चल रहे हैं अब जाधव के खुलासे के बाद एक बार फिर से यह बहस छिड़ गई है। जाधव ने पिछले महीने एशिया कप के दौरान टीम में वापसी की थी लेकिन फाइनल में मांसपेशियों में खिंचाव के कारण वह टीम से बाहर हो गए थे। अब रिहैबिलिटेशन से गुजरने के बाद जाधव ने कहा कि मैंने सभी टेस्ट पार कर लिए थे। सब कुछ ठीक है। लेकिन अब अनिश्चितता पैदा हो गई है कि मुझे अगला मौका कब मिलेगा।

.
.
.
.
.