IPL 2019
Sports

कोलकाता : बीसीसीआई ने भले ही इस साल के अंत में आस्ट्रेलिया दौरे पर दिन-रात्रि टेस्ट खेलने से इनकार कर दिया हो लेकिन पूर्व कप्तान सौरव गांगुली ने गुलाबी गेंद से खेले जाने इस मुकाबले संबंधी अलग ही राय दी है। गांगुली का कहना है कि दिन-रात्रि टेस्ट ‘क्रिकेट का भविष्य’ है। एक कार्यक्रम में पहुंचे गांगुली ने कहा कि एक दिन ऐसा आएगा हर देश को दिन-रात्रि टेस्ट खेलने होंगे। भारत को थोड़ा संकोच है लेकिन यह टेस्ट क्रिकेट का भविष्य है। 

टेस्ट खेलने वाले देशों में दो देश ऐसे हैं जो अभी तक अंतरराष्ट्रीय स्तर पर गुलाबी गेंद के क्रिकेट से बचते रहे हैं जिसमें से भारत एक है और दूसरा बांग्लादेश है। लेकिन गांगुली ने कहा कि भारतीय टीम में दिन-रात्रि टेस्ट जीतने की काबिलियत है। उन्होंने कहा- भारतीय टीम अच्छी है, वे दिन-रात्रि टेस्ट मैच में भी जीत दर्ज करेंगे। इसमें सिर्फ गेंद का अंतर है, मुझे नहीं लगता कि इससे ज्यादा कोई और अंतर है। टीम में इतने शानदार खिलाड़ी हैं कि वे जीत दर्ज कर सकते हैं।

गांगुली ने भारतीय कप्तान विराट कोहली के अगले महीने बेंगलुरू में अफगानिस्तान के खिलाफ होने वाले ऐतिहासिक टेस्ट में नहीं खेलने के फैसले का समर्थन किया। उन्होंने कहा- मुझे लगता है कि इसमें प्रतिद्वंद्वी टीम अफगानिस्तान है, लेकिन उन्होंने काउंटी खेलने को तरजीह दी है। अगर प्रतिद्वंद्वी टीम कोई और होती, तो वह शायद नहीं जाता। यह दिखाता है कि इंग्लैंड दौरा उसके लिये कितना अहम है। मैंने हमेशा कहा कि कप्तान की पहचान उसका और उसकी टीम का विदेशों में अच्छा प्रदर्शन करना है। उन्होंने कहा, ‘‘कप्तान के तौर पर वह इंग्लैंड में जीतना चाहता है इसलिए वह काउंटी खेलने गया है।

.
.
.
.
.