Sports

नई दिल्ली : भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी लक्ष्य सेन अपने कोच डीके सेन के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद जर्मनी में चल रहे सारलोरलक्स ओपन टूर्नामेंट से हट गए हैं। लक्ष्य के साथ-साथ छठी सीड शुभंकर डे और अजय जयराम को आइसोलेशन में जाने के कारण टूर्नामेंट से हटना पड़ा है जबकि महिला वर्ग में मालविका बंसोड़ को हार का सामना करना पड़ा है। 19 वर्षीय लक्ष्य, उनके कोच और फिजियो टूर्नामेंट के लिए 25 अक्टूबर को जर्मनी के सारबरकन पहुंच गए थे।

लक्ष्य इस टूर्नामेंट के गत चैंपियन हैं। उन्हें कोविड टेस्ट के लिए फ्रैंकफटर् जाने की सलाह दी गई। उनकी रिपोर्ट 27 अक्टूबर को आयी जिसमें सेन और फिजियो की रिपोर्ट नेगेटिव आई जबकि कोच की रिपोटर् पॉजिटिव आयी। डीके सेन लक्ष्य के पिता हैं। लक्ष्य ने इसके बाद टूर्नामेंट से हटने का फैसला किया ताकि टूर्नामेंट के आयोजन में कोई बाधा नहीं आये और अन्य खिलाड़ियों को कोई परेशानी नहीं हो। उन्होंने आयोजकों को सूचित कर दिया है। सेन और उनके कोच ने एक और कोविड टेस्ट के लिए आग्रह किया है ताकि उनकी भारत वापसी के लिए तारीख तय हो सके।

लक्ष्य ,शुभंकर और जयराम को टूर्नामेंट से हटने के लिए मजबूर होना पड़ा जिससे उनके विपक्षी खिलाड़ियों को वाकओवर मिल गया। लक्ष्य का मुकाबला अमेरिका के होवाडर् शू से, शुभंकर का मुकाबला कनाडा के ब्रायन यंग से और जयराम का मुकाबला तीसरी सीड हॉलैंड के मार्क कालजो से था। जयराम ने पहले राउंड में बेल्जियम के मैक्सिम मोरेल्स को 21-8, 21-8 से हराया था जबकि लक्ष्य और शुभंकर को पहले राउंड में बाई मिली थी। महिला वर्ग के पहले राउंड में मालविका बंसोड़ को एस्टोनिया की क्रिस्टीन कूबा ने 21-12, 21-19 से पराजित किया।

विश्व बैडमिंटन महासंघ ने भी पुष्टि की है कि भारत के तीन खिलाड़ियों को उनकी सपोटर् स्टाफ टीम के एक सदस्य के पॉजिटिव आने के बाद आइसोलेशन में रखा गया है। तीनों खिलाड़ी टूर्नामेंट शुरू होने से पहले नेगेटिव पाए गए थे। 

.
.
.
.
.