Sports

नई दिल्ली : भारतीय पुरुष हॉकी टीम के डिफेंडर मनदीप मोर का कहना है कि नरवाना जैसे छोटे शहर में एस्टो टर्फ का होना इस क्षेत्र के लोगों के लिए बड़ी उपलब्धि है। हरियाणा के जींद जिले के नरवाना से आने वाले मनदीप ने जूनियर हॉकी टीम की कप्तानी की है और 2019 सुल्तान जोहोर कप में रजत पदक जीता है। उनका मानना है कि एस्टो टर्फ से इस क्षेत्र के युवा खिलाड़यिों को कम उम्र में काफी मदद मिलेगी।

मनदीप ने कहा, ‘मैं शब्दों में बयां नहीं कर सकता कि यह इस क्षेत्र के लिए लोगों के लिए क्या मायने रखता है। हमारे जैसे छोटे गांव में अंतरराष्ट्रीय स्तर की पिच होना यहां के खिलाड़यिों के लिए बड़ी उपलब्धि है।' उन्होंने कहा, ‘लोगों को इस बात से अजीब लग सकता है कि हम एस्टो टर्फ के खुलने से इतनी खुशियां क्यों मना रहे हैं।

उन्होंने कहा, यह हमारे लिए विशेष है क्योंकि पहले अगर हमें ऐसी पिच पर खेलना होता था तो हमें नरवाना से 122 किलोमीटर दूर शाहबाद मारकंडा जाना होता था और बस से जाने में दो घंटे लगते थे। यह नरवाना के खिलाड़यिों के लिए सबसे नजदीक जगह थी।' 

.
.
.
.
.