Sports

बैंकाक : क्रिकेट को हांगझू एशियाई खेल 2022 के खेल कार्यक्रम में शामिल किया गया है जिससे इस खेल की इन महाद्वीपीय खेलों में वापसी हो सकती है। रविवार को मीडिया में आई खबरों में यह जानकारी दी गई। एक खेल वेबसाइट के अनुसार एशियाई ओलंपिक परिषद (ओसीए) की आम सभा की बैठक में यह फैसला किया गया। क्रिकेट को 2010 और 2014 एशियाई खेलों में जगह मिली थी लेकिन इंडोनेशिया में 2018 में हुए खेलों से इसे हटा दिया गया। पूरी संभावना है कि अगर क्रिकेट को जगह मिलती है तो 2010 में ग्वांग्झू और 2014 में इंचियोन खेलों की तरह 2022 में भी टी20 प्रारूप को ही शामिल किया जाएगा।

भारत इससे पहले टीम के व्यस्त कार्यक्रम का हवाला देकर इस महाद्वीपीय प्रतियोगिता से बाहर रह चुका है। एशियाई खेलों के अगले टूर्नामेंट के आयोजन में अब भी काफी समय है और ऐसे में भारतीय टीम के प्रतिनिधित्व पर चर्चा करने के लिए बीसीसीआई को काफी समय मिलेगा। बीसीसीआई के एक अधिकारी ने बताया, ‘2022 एशियाई खेलों के लिए अभी काफी समय है। समय आने पर हम चर्चा करेंगे और फैसला लेंगे।’ क्रिकेट को 2022 खेलों में जगह देना उम्मीद के मुताबिक है क्योंकि ओसीए के मानद उपाध्यक्ष रणधीर सिंह ने उपयुक्त स्थल चुनने के लिए पिछले महीने हांगझू का दौरा किया था।

श्रीलंका और पाकिस्तान ने 2014 में क्रमश: पुरुष और महिला वर्ग में स्वर्ण पदक जीते थे जबकि 2010 में बांग्लादेश और पाकिस्तान ने बाजी मारी थी। राष्ट्रमंडल खेल 1998 में भी क्रिकेट को शामिल किया गया था और तब भारत ने भी अपनी टीम भेजी थी। तब शान पोलाक की अगुआई वाली दक्षिण अफ्रीकी टीम ने स्टीव वा की कप्तानी वाली आस्ट्रेलियाई टीम को हराकर स्वर्ण पदक जीता था। रविवार को ओसीए की आम सभा में हुए अन्य महत्वपूर्ण फैसलों के अनुसार घोषणा की गई कि आस्ट्रेलिया सहित ओसियाना देशों को 2022 एशियाई खेलों में हिस्सा लेने के लिए आमंत्रित किया जाएगा। हालांकि यह फैसला बाद में किया जाएगा कि ओसियाना के कितने खिलाडिय़ों को हांगझू में हिस्सा लेने की स्वीकृति दी जाएगी। 

.
.
.
.
.