education and jobs

नई दिल्ली: संयुक्त प्रवेश परीक्षा (जेईई) मेन्स में 100 फीसदी अंक हासिल करने वाले 18 साल के शुभान श्रीवास्तव को उम्मीद नहीं थी कि उन्हें इतने अच्छे अंक मिलेंगे। उनका लक्ष्य आई.आई.टी. दिल्ली में दाखिला लेना है। मानव संसाधन विकास मंत्रालय की राष्ट्रीय परीक्षा एजेंसी (एन.टी.ए.) ने सोमवार को जे.ई.ई. मेन्स के परिणाम घोषित किए तो श्रीवास्तव ने अपना नाम उन 24 छात्रों के साथ पाया जिन्होंने 100 फीसदी अंक हासिल किएहैं। 

वह शत-प्रतिशत अंक हासिल करने वाले दिल्ली के इकलौते छात्र हैं। उन्होंने कहा कि अच्छे अंक हासिल करना और आई.आई.टी. दिल्ली में दाखिला सुरक्षित करना मेरा लक्ष्य था और मैं 2 साल से इसके लिए मेहनत कर रहा हूं। परीक्षा के बाद, मैंने अपने उत्तर दोबारा से जांचे। लिहाजा मुझे विश्वास था कि मुझे शानदार अंक मिलेंगे लेकिन इस बात की उम्मीद नहीं थी कि 100 प्रतिशत अंक मिलेंगे।

शतरंज खेलने के शौकीन हैं जेईई मेन्स टॉपर
जे.ई.ई. मेन्स के टॉपर शुभान ने बताया कि उन्हें शतरंज खेलने का शौक है। उन्होंने कहा कि शतरंज सोच-समझकर कदम उठाने की सीख देता है। मैं अपने लक्ष्यों के लिए इसी का अनुसरण करता हूं। मैं कम्प्यूटर साइंस इंजीनियरिंग पढऩा चाहता हूं और मुझे यकीन है कि मैं यह करूंगा।

.
.
.
.
.