Sports

गोल्ड कोस्ट: ओलिंपिक रजत पदक विजेता पी वी सिंधू की अगुवाई में भारतीय टीम को कल से यहां शुरू हो रहे सुदीरमन कप मिश्रित टीम बैडमिंटन टूर्नामेंट में पदक के लिये सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करना होगा।  नौवी रैंकिंग वाली भारतीय टीम 2011 में ही नाकआउट चरण तक पहुंच सकी थी जबकि पिछले दो सत्र में ग्रुप चरण से आगे नहीं बढ सकी । 

सिंधू और दुनिया के 13वें नंबर के खिलाड़ी अजय जयराम की अगुवाई में भारत को इस बार ग्रुप वन डी मिला है जिसमें डेनमार्क और इंडोनेशिया भी हैं।  भारत को सोमवार को डेनमार्क से खेलना है जबकि बुधवार को उसका सामना पूर्व चैम्पियन और छह बार के उपविजेता इंडोनेशिया से होगा।  लंदन ओलंपिक कांस्य पदक विजेता साइना नेहवाल इसमें नहीं खेल रही है। 

सिंधू ने कहा कि हमारे पास अच्छा मौका है। चूंकि यह टीम स्पर्धा है तो लड़के और लड़कियों दोनों को अच्छा खेलना होगा। साइना नहीं खेल रही है लेकिन यह कोई मसला नहीं है । हमें अच्छे प्रदर्शन का यकीन है। डेनमार्क के पास दुनिया के तीसरे और चौथे नंबर के खिलाड़ी विक्टर एक्सेलसन और यान ओ योर्गेंसेन हैं । जयराम और सिंगापुर ओपन उपविजेता के श्रीकांत उनसे खेलेंगे।  युगल भारत की कमजोर कड़ी है और मनु अत्री तथा बी सुमीत रेड्डी अच्छा प्रदर्शन करने में नाकाम रहे हैं। सिक्की रेड्डी और प्रणाव जेरी चोपड़ा ने अच्छा प्रदर्शन किया है। दूसरी ओर महिला वर्ग में सिक्की और अश्विनी पोनप्पा लखनउ में फाइनल तक पहुंची थी।