Sports

टोक्यो : इइकिडेन कॉरपोरेट मैराथन रिले के दौरान दिल को कंपाने वाला दृश्य सामने आया है। रेस के दौरान जापान की 19 साल की रेई इडिया के पैर में फ्रैक्चर हो गया था। उन्होंने रेस दौरान  कुल 2.2 मील यानी 3.54 किमी की दूरी पूरी करनी थी। वह जैसे-तैसे दौड़ती रहीं। लेकिन जब उनकी साथी, जिन्हें उन्होंने बैटन देनी थी, महज 213 मीटर की दूरी पर रह गईं, तब दर्द नहीं सह पाने के कारण वह लड़खड़ाकर गिर पड़ीं।

PunjabKesarisports Rei Iida

रेई ने इस दौरान हिम्मत नहीं हारी। वह घुटने के बल चलकर अपने साथी तक पहुंचीं। इस दौरान उनके घुटनों के अलावा हाथों से भी खून निकलने लगा था, लेकिन उन्होंने रेस बंद नहीं की। वहीं, उनकी इस स्पर्ट्समैनशिप का जब उनकी टीम इवातानी सेंगयो के मैनेजर को पता चला तो उन्होंने आनन-फानन में रेई से रेस छोडऩे को कहा। लेकिन रेई ने फैसला लिया कि वह दौड़ेंगी। दौड़ पूरी होने के बाद उन्हें अस्पताल ले जाया गया। डॉक्टरों ने कहा है कि उनकी चोट ठीक होने में कम से कम चार महीने लग सकते हैं।  

रेई की जहां तारीफ हो रही है, वहीं रेस प्रबंधन की खूब आलोचना भी हुई। मौके पर मौजूद एक स्पोर्ट्स कमेंटेटर तेतशुहिका किन ने कहा कि दरअसल प्रबंधन कॉरपोरेट मैराथन के खिलाड़ियों पर रेस पूरी करने का दबाव बनाता है। यह गलत है। इसे बदला जाना चाहिए।

 

.
.
.
.
.