Sports

नई दिल्ली : बहरीन और बेलारूस के खिलाफ दो अंतरराष्ट्रीय मैत्री मैचों में भारत के अभियान की शुरुआत से पहले भारतीय सीनियर पुरुष फुटबॉल टीम के मुख्य कोच इगोर स्टिमैक का मानना है कि उनके लड़के बुधवार को मेजबान बहरीन के खिलाफ मैच में बहादुर रवैया अपनाना जारी रखेंगे। स्टिमैक ने मैत्री मैचों से पहले सोमवार को घोषित 25 सदस्यीय भारतीय टीम में सात नए चेहरों प्रभसुखन गिल, होर्मिपम रुइवा, अनवर अली, रोशन सिंह, वीपी सुहैर, दानिश फारूक और अनिकेत यादव को शामिल किया है।

चयन को ध्यान में रखते हुए उन्होंने कहा कि मैं अपने खिलाडिय़ों को अच्छे विरोधियों के खिलाफ खेलने का मौका देना चाहता हूं और मुझे उम्मीद है कि कल जब वे मैदान पर होंगे तो एक बहादुर रवैया अपनाएंगे। मैं कुछ नए चेहरों के साथ अपनी सर्वश्रेष्ठ प्रारंभिक प्लेइंग इलेवन (एकादश) चुनने की कोशिश करूंगा। मैं यह देखना चाहता हूं कि वे उच्च रैंकिंग वाली टीमों के खिलाफ कैसा प्रदर्शन करते हैं, जिससे वह बाद में जून में होने वाले क्वालीफायर के लिए उनका आकलन कर सकते हैं। 

Igor Stimac, बहरीन और बेलारूस, Football news in hindi, sports news, भारतीय सीनियर पुरुष फुटबॉल टीम, इगोर स्टिमैक

स्टिमैक ने टीम के चयन के बारे में पूछे जाने पर कहा कि यह काफी मुश्किल सीजन रहा है, लेकिन साथ ही यह रोमांचक भी था। मुझे यह सुनिश्चित करना था कि इस सीजन हीरो आईएसएल में खेलने वाले आधे भारतीय खिलाड़ी मेरी सूची में हों। कुछ और खिलाड़ी भी थे, जिन्होंने अच्छा प्रदर्शन किया, लेकिन चोटों के कारण मैं उन्हें यहां बुलाने का जोखिम नहीं उठाना चाहता था। 

सुनील छेत्री चोट के कारण दोनों मैत्री मैचों से बाहर हो गए हैं, लेकिन कोच स्टिमैक को लगता है कि युवा खिलाड़यिों के लिए खुद को साबित करने का यह सबसे अच्छा समय है। कोच ने कहा कि हमारे पास सुनील के स्थान पर मनवीर, लिस्टन और रहीम स्ट्राइकर के रूप में हैं, लेकिन पूरी टीम को उनकी जगह लेनी चाहिए। मुझे उम्मीद है कि ये खिलाड़ी अधिक जिम्मेदारी लेंगे और अधिक मौके बनाएंगे, क्योंकि सुनील यहां हमारे साथ नहीं हैं। 

Igor Stimac, बहरीन और बेलारूस, Football news in hindi, sports news, भारतीय सीनियर पुरुष फुटबॉल टीम, इगोर स्टिमैक
उल्लेखनीय है कि अंतरराष्ट्रीय मैत्री मैच एएफसी एशियाई कप चीन 2023 क्वालीफाइंग मैचों के अंतिम दौर के लिए टीम की तैयारी का हिस्सा हैं, जो आठ जून से कोलकाता में शुरू होगा। क्वालीफायर के अंतिम दौर के लिए 24 टीमों को छह समूहों में बांटा गया है, जिसमें भारत हांग-कांग, अफगानिस्तान और कंबोडिया के साथ ग्रुप डी में है। ग्रुप विजेता और दूसरे स्थान पर आने वाली पांच सर्वश्रेष्ठ टीमें एशियाई कप के लिए क्वालीफाई करेंगी।

.
.
.
.
.