Sports

नई दिल्ली : भारतीय महिला फुटबॉल टीम की मुख्य कोच मेमोल रॉकी ने कहा कि दो मैत्री मैचों से पहले ही उज्बेकिस्तान की यात्रा करना सही फैसला था क्योंकि यहां परिस्थतियां घरेलू सरजमीं से बिलकुल विपरीत हैं। भारतीय टीम को सोमवार को मेजबान उज्बेकिस्तान और गुरूवार को बेलारूस से दो मैत्री मैच खेलने हैं। 

मेमोल ने कहा, ‘हम यहां जल्दी आ गये जिससे उज्बेकिस्तान में ट्रेनिंग कर पाए। यहां मौसम काफी ठंडा है। गोवा में जो मौसम था, उसमें और इसमें बड़ा अंतर है। लेकिन लड़कियां अपना सर्वश्रेष्ठ कर रही हैं। हम सुबह और शाम दोनों के सत्रों में ट्रेनिंग कर रहे हैं और ज्यादा से ज्यादा फायदा उठाने का प्रयास कर रहे हैं।' 

उन्होंने कहा, ‘हम पहले भी (2019) उज्बेकिस्तान से खेल चुके हैं। मुझे पूरा भरोसा है कि तब से उनकी टीम पूरी बदल चुकी है। हमारी टीम भी निश्चित रूप से बदल गयी है। मुझे भरोसा है कि यह किसी भी टीम के लिये आसान मैच नहीं होगा। हम इसमें भिड़ने के लिये तैयार हैं।' मेमोल ने कहा कि बेहतर प्रतिद्वंद्वियों से खेलने से उनकी टीम को लंबे समय के लक्ष्यों की तैयारी के लिए मदद मिलेगी जो 2022 एएफसी महिला एशियाई कप के लिये तैयार होना है जिसकी मेजबानी भारत कर रहा है। 

.
.
.
.
.