Sports

जालन्धर : 2012 के लंदन ओलंपिक में रजत पदक, 2008 के बीजिंग ओलंपिक में कांस्य पदक जीतकर लगातार दो ओलम्पिक मुकाबलों में व्यक्तिगत पदक जीतने वाले पहले भारतीय खिलाड़ी सुशील कुमार ने कॉमनवैल्थ गेम्स दौरान भी झंडा गाड़ दिया है। 74 किलोग्राम फ्री स्टाइल रैसलिंग में सुशील ने कनाडा ने दक्षिण अफ्रीका बोथा जोहानेस को महज एक मिनट में ही धूल चटा दी।
सुशील खेल के पहले सैकंड से ही दक्षिण अफ्रीकी पहलवान पर हावी दिख रहे थे। उन्होंने अपने पहले ही अटैंप्ड में बोथा को पकड़ जमीन पर ला दिया। इससे सुशील को चार प्वाइंट मिले। इसके बाद फिर ताबड़तोड़ हमले जारी रखते हुए सुशील ने दो और प्वाइंट बटोर लिए। इसके बाद बोथा के पास संभलने का मौका ही नहीं बचा। सुशील ने एक और दांव मारकर अपनी लीड 10-0 की तो रैफरी के पास भी सुशील को विजेता करार देने की सिवाए कोई चारा नहीं बचा। सुशील ने इसी के साथ कॉमनवैल्थ गेम्स में अपनी गोल्ड की हैट्रिक भी पूरी कर ली है।

.
.
.
.
.