Sports

जालन्धर : एंटीगुया के सर विवियन रिचड्र्स स्टेडियम में वैस्टइंडीज और बांगलादेश के बीच खेले गए पहले टैस्ट में इंडीज पेसर केमर रोच की शानदार गेंदबाजी देखने को मिली। रोच ने न सिर्फ अपनी तेज गेंदों से बांगलादेश के बल्लेबाजों को नचाया साथ ही साथ बांगलादेश को उसके सबसे कम स्कोर (43) पर आऊट होने के लिए भी मजबूत कर दिया। रोच ने महज 12 गेंदों में बांगलादेश के अहम पांच विकेट झटकाकर उसे घुटनों पर ला दिया। रोच के यह पांच विकेट तब आए जब बांगलादेश टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करने आया था। 
PunjabKesari
अपनी शानदार गेंदबाजी का राज खोलते हुए रोच ने कहा कि ऐसा कभी-कभी होता है। जरूरत होती है लगातार एक लैंथ पर गेंदबाजी करने की। मैंने बंगलादेश के खिलाफ भी ऐसा ही किया। पिच तेज थी, थोड़ी हवा भी चल रही थी। इससे मूवमैंट मिलने लगी। मैंने लाइन नहीं छोड़ी जिसका नतीजा मुझे विकेटों के रूप में मिला। वैसे भी मेरे दिमाग में कैच, बोल्ड और पगबाधा तीनों चीजें चल रही थी। इसके लिए जरूरत थी- विकेट टू विकेट गेंदबाजी करने की। मुझे खुशी है कि मैं इसमें सफल हो सका।
PunjabKesari
बता दें कि पूरी पारी के दौरान रोच ने सिर्फ पांच ओवर ही गेंदबाजी की। इसमें उन्होंने एक मेडल फेंककर आठ रन देते हुए पांच विकेट झटके थे। रोच ने बांगलादेश के मुशफिकुर रहीम, कप्तान शाकिब अल हसन और महमदुल्लाह को 0 पर आऊट किया। वहीं, ममीनुल हक एक तो तमीम इकबाल रोच की गेंदबाजी के सामने केवल चार रन बनाकर ही आऊट हो गए।

.
.
.
.
.