Sports

पर्थ : वाका के नए ओपस स्टेडियम में घसियाली पिच तैयार कर मुख्य क्यूरेटर ब्रेट सिपथोर्प ने कहा है कि यहां खेलना आसान नहीं होगा। सिपथोर्प ने कहा- सभी तेजी और उछाल और मूवमेंट के बारे में बात कर रहे हैं लेकिन कोई इसको लेकर बात नहीं कर रहा है कि वे 38 डिग्री सेल्सियस तापमान में भारी दबाव को कितनी देर तक झेल सकते हैं। यह चुनौती है। टास जीतने पर पहले बल्लेबाजी करते हुए आप परिस्थितियों का फायदा उठा सकते हो या फिर आप यह सोचते हो कि वास्तव में 38 डिग्री में 50 ओवरों के बाद हम काफी थक जाएंगे।

सिपथोर्प वैसा ही विकेट तैयार करना चाहते हैं जैसा उन्होंने पश्चिम आस्ट्रेलिया और न्यू साउथ वेल्स के बीच पिछले महीने शैफील्ड शील्ड मैच के लिए बनाया था। उन्होंने कहा- हमारी योजना वैसा ही विकेट तैयार करने की है जैसा हमने शैफील्ड शील्ड मैच के लिए बनाया था। हमें खिलाडिय़ों से अच्छा फीडबैक मिला है। मुझे मैच के दौरान खिलाडिय़ों से बहुत अधिक बातचीत करने में समय नहीं बिताना चाहिए लेकिन हम खिलाडिय़ों से अधिक से अधिक फीडबैक लेना चाहते हैं।

सिपथोर्प ने कहा- उनमें से किसी ने भी इसको लेकर नकारात्मक टिप्पणी नहीं की। वे सभी इसको लेकर सकारात्मक थे। हम चाहते हैं कि पिच पर उसी तरह की नमी रहे और हमें उम्मीद है कि इस बार भी विकेट से उसी तरह की तेजी और उछाल मिलेगी। दोनों टीमों के पास मजबूत गेंदबाजी आक्रमण है और वे पहले गेंदबाजी करना पसंद करेंगे। क्यूरेटर ने हालांकि कहा कि कप्तानों को कोई फैसला करने से पहले पर्थ की गर्मी को भी ध्यान में रखना होगा।

.
.
.
.
.