Sports

भुवनेश्वर : खिताब की प्रबल दावेदार और विश्व की पांचवें नंबर की टीम भारत एफआईएच सीरीज फाइनल्स के शुक्रवार को होने वाले सेमीफाइनल में एशियाई खेलों के विजेता जापान के खिलाफ टोक्यो ओलंपिक क्वालिफायर का टिकट कटाने के लक्ष्य के साथ उतरेगी। एफआईएच सीरीज फाइनल्स के खिताबी मुकाबले में पहुंचने वाली दोनों टीमों को इस साल के आखिर में होने वाले टोक्यो ओलंपिक क्वालिफायर में उतरने का मौका मिलेगा। भारत को जापान से यह मुकाबला जीतना होगा। भारत ने पिछले साल एशियाई खेलों में जापान को ग्रुप मुकाबले में 8-0 से शिकस्त दी थी। हालांकि भारत को सेमीफाइनल में सडन डैथ में मलेशिया से हार का सामना करना पड़ा था। 

जापान ने फाइनल में मलेशिया को हराकर स्वर्ण पदक जीता था। जापान टोक्यो ओलंपिक का मेजबान होने के नाते हॉकी प्रतियोगिता में खेलने का पहले ही हकदार बन चुका है। भारत और जापान के बीच अबतक 11 बार किसी भी टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में मुकाबला हुआ है और हर बार भारतीय टीम जीती है। ओवरऑल दोनों टीमों के बीच 83 मुकाबलों में 75 भारत ने और चार जापान ने जीते हैं। टूर्नामेंट का दूसरा सेमीफाइनल दक्षिण अफ्रीका और अमेरिका बीच खेला जाएगा। कल खेले गए क्रास ओवर मैचों में जापान ने पोलैंड को 6-2 से और दक्षिण अफ्रीका ने रुस को 2-1 से हराया था। शुक्रवार को पांचवें और छठे स्थान के लिए पोलैंड का मुकाबला होगा। 

.
.
.
.
.