Sports

रोटरडम : भारतीय महिला हॉकी टीम रविवार को यहां एफआईएच प्रो लीग के ‘डबल लेग’ मुकाबले के दूसरे मैच में एक गोल की बढ़त गंवाकर ओलंपिक रजत पदक विजेता अर्जेंटीना से 2-3 से हार गयी। अर्जेंटीना ने 16 मैचों में 42 अंक की बदौलत एफआईएच प्रो लीग खिताब जीत लिया। वह दूसरे स्थान पर रही नीदरलैंड से 10 अंक आगे रही जिसके अभी दो मैच बचे हैं। भारतीय टीम 12 मैचों में 24 अंक लेकर अपने पदार्पण सत्र में तीसरे स्थान पर बरकरार रही।

शनिवार को हुए पहले मैच में भारतीयों ने शानदार प्रदर्शन कर निर्धारित समय में 3-3 की बराबरी के बाद हुए शूटआउट में अर्जेंटीना को 2-1 से हराकर उलटफेर किया। इस जीत से भारतीय महिला खिलाडिय़ों का मनोबल बढ़ा हुआ था और उन्होंने इसी जज्बे से खेलते हुए शुरू में ही अर्जेंटीना की रक्षापंक्ति पर दबाव बना दिया। भारतीयों ने हमले करने में ही नहीं बल्कि ‘बैकलाइन’ में भी शानदार प्रदर्शन दिखाया, कम से कम शुरूआती दो क्वार्टर में सविता पूनिया की अगुआई वाली टीम के रक्षण ने अर्जेंटीना के कई प्रयासों को विफल किया। दोनों टीमों ने पहले क्वार्टर में एक दूसरे को बराबरी की टक्कर दी, हालांकि गोल नहीं कर सकीं।

भारत ने 23वें मिनट में बढ़त हासिल की जब जवाबी हमले पर सलीमा टेटे ने अर्जेंटीना की रक्षापंक्ति को चीरते हुए शॉट लगाया और यह गोलकीपर बेलेन सुकी की स्टिक से डिफ्लेक्ट होकर अंदर चला गया। 3 मिनट बाद भारतीय गोलकीपर सविता ने जुलिएटा जानकुनास के शॉट का शानदार बचाव कर अपनी टीम की बढ़त बरकरार रखी। इसके बाद अर्जेंटीना ने तीन शॉट गोल की ओर लगाए लेकिन सविता ने इन्हें अंदर नहीं जाने दिया।


छोर बदलने के बाद अर्जेंटीना ने आक्रमण तेज कर दिया और तीसरे क्वार्टर के ज्यादातर हिस्से में नियंत्रण बनाये रखा। भारतीय खिलाड़ी अर्जेंटीना की तेजी की बराबरी करने में जूझ रही थी और खेल भारतीय हाफ के अंदर ही चल रहा था। 37वें मिनट में सविता ने जानकुनास का करीबी रेंज का शॉट विफल किया। लेकिन एक मिनट बाद डेलफिना थोम ने सोफिया टोकालिनो द्वारा बनाए गए मौके को गोल में बदलकर अपनी टीम को बराबरी पर कर दिया। भारत को जल्द ही एक पेनल्टी कॉर्नर मिला, हालांकि उदिता ने इस मौके को गंवा दिया।

अर्जेंटीना ने फिर तीन मिनट के अंदर दो पेनल्टी कॉर्नर हासिल कर दो गोल दाग दिए और 3-1 की बढ़त बना ली। यूजेनिया ट्रिनचिनेटी ने पहले 41वें मिनट में शानदार वैरिएशन से गोल किया और फिर दो मिनट बाद पिछले मैच में हैट्रिक करने वाली ऑगस्टिना गोजेर्लानी ने गोल किया। लेकिन भारतीय खिलाड़ी भी चुनौती दिए बिना हार मानने के मूड में नहीं थी। तीन मिनट बाद दीप ग्रेस एक्का ने पेनल्टी कॉर्नर पर गोल कर हार का अंतर 2-3 किया। 

भारतीयों ने हूटर बजने तक कोशिश जारी रखी और 55वें मिनट में वंदना कटारिया जवाबी हमले पर बराबरी करने के करीब पहुंच गई थी लेकिन उनकी रिवर्स हिट का सुकी ने अच्छा बचाव किया। भारतीय टीम अब 21 और 22 जून को अमेरिका से खेलेगी। 

.
.
.
.
.