Sports

जालन्धर : न्यूजीलैंड के खिलाफ पहले टी-20 में जब दिनेश कार्तिक ग्राऊंड पर उतरे थे तो उनमें एक बड़ा बदलाव देखने को मिला था। वह ऐसी वर्दी पहने थे जिस पर उनका ही नाम था। हालांकि न्यूजीलैंड के खिलाफ टी-20 मैचों की सीरीज के लिए उनका नाम पहले से ही चल रहा था। लेकिन बावजूद इसके टीम प्रबंधन सिर्फ धोनी या पंत को प्लेइंग 11 में जगह देने की सोच रहा था। इसी चक्कर में बीसीसीआई सबसे बड़ी गलती कर गई। कार्तिक की वर्दी तक नहीं बनवाई गई। मानें उन्हें कोई भी मैच में मौका ही न देना हो। सोशल साइट्स पर तो क्रिकेट फैंस बीसीसीआई की इस गलती पर खफा नजर आए। कुछेक ने लिखा- पंत और धोनी के चक्कर में क्रिकेट बोर्ड दिनेश कार्तिक की पहचान भी छिनने की कोशिश कर रहा है। 
कार्तिक को वर्दी पर टेप लगाकर खेलना पड़ा-
dinesh Karthik wear his teammate uniform in Wellington T20
कैच पकड़कर कर दी सबकी बोलती बंद

dinesh Karthik wear his teammate uniform in Wellington T20
दिनेश कार्तिक भले ही वेलिंगटन टी-20 के दौरान बल्ले से कमाल नहीं दिखा पाए लेकिन उन्होंने शानदार कैच लेकर खूब वाहवाही लूटी। हुआ यूं कि न्यूजीलैंड के नवोदित बल्लेबाज डेरेल मिशेल ने एक ऊंचा शॉट लगाया। देखने में लगा कि बॉल आसानी से बाऊंड्री पार कर लेगी। लेकिन ऐसा हो न पाया। बॉल को बाऊंडी से बाहर जाने से रोकने के लिए दिनेश कार्तिक बीच में आ गए। उन्होंने डाइव लगाकर पहले तो कैच पकड़ा। फिर जब उन्हें लगा कि वह बाउंड्री के पार गिरेंगे तो बॉल हवा में उछाल दी। इसके बाद कार्तिक उठे और सुपरडाइव लगाकर दोबारा कैच पकड़ ली।

कमाल के बल्लेबाज हैं दिनेश कार्तिक 
dinesh Karthik wear his teammate uniform in Wellington T20
भारत के लिए लिमिटेड एडिशन क्रिकेट में दिनेश कार्तिक कमाल के बल्लेबाजों में से एक है। निहादस ट्रॉफी फाइनल के दौरान उनकी परफार्मेंस को भला कौन भूल सकता है। वह 28 टी-20 इंटरनैशनल खेल चुके हैं जिसमें उनके नाम 357 रन दर्ज है। बड़ी बात यह है कि कार्तिक की स्ट्राइक रेट 140 के आसपास है। वह ऐसे समय मैदान में आते हैं जब टीम इंडिया को तेज रन चाहिए होते हैं। कार्तिक कई बार टीम इंडिया को मुश्किल स्थिति से बाहर निकालने में कामयाब रहे हैं।

.
.
.
.
.