Sports

स्पोर्ट्स डेस्क (नीलकंठ): एक तरफ धवन के चोटिल होने से उनके फैंस में निराशा फैली हुई है। वहीं 'गब्बर' के नाम से विख्यात दिल्ली के इस सलामी बल्लेबाज ने हार नहीं मानी है। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ लंदन के केनिंग्टन ओवल मैदान में भारतीय ओपनर बल्लेबाज शिखर धवन ने 117 रनों की शतकीय पारी खेली। लेकिन ये पारी धवन के लिए आसान नहीं थी क्योंकि इस पारी के बीच धवन चोटिल हो गए थे। ऐसे में कुछ समय के लिए वर्ल्ड कप टीम से बाहर होने के बाद अभी भी उन्होंने हिम्मत नहीं हारी है। उन्होंने सोशल मीडिया पर अपने जज्बे को जाहिर किया। 

PunjabKesari
दरअसल, धवन ने ट्विटर पर एक ट्वीट किया जिसमें लिखा, 'कभी महक की तरह हम गुलों से उड़ते हैं। कभी धुएं की तरह हम पर्वतों से उड़ते हैं। ये कैंचियां हमें उड़ने से खाक रोकेंगी, हम परों से नहीं हौसलों से उड़ते हैं।'

PunjabKesari


धवन ने ट्वीट कर लिखी शायरी

कभी महक की तरह हम गुलों से उड़ते हैं,
कभी धुएं की तरह पर्बतों से उड़ते हैं..
ये कैंचियां हमें उड़ने से ख़ाक रोकेंगी,
के हम परों से नहीं..... हौसलों से उड़ते हैं...

 

.
.
.
.
.