Sports

स्पोर्ट्स डेस्क (नीलकंठ): टीम इंडिया और वेस्टइंडीज के बीच होने वाली टी20, वनडे और टेस्ट सीरीज के पहले भारतीय क्रिकेट टीम का ऐलान कर दिया गया है। एमएसके प्रसाद की अगुवाई वाली भारतीय सीनियर चयन समिति ने भारत-वेस्टइंडीज दौरे के लिए भारतीय क्रिकेट टीम का कल चयन कर दिया गया है। विंडीज दौरे पर युवा खिलाड़ी राहुल चाहर और दीपक चाहर को टीम इंडिया में खेलने का मौका मिला। तो आइए जानते है कि कैसा रहा है दोनों चाहर ब्रदर्स का क्रिकेट में सफर। 

राहुल ने राइजिंग पुणे सुपर जायंट से शुरू किया कैरियर
PunjabKesari
राइजिंग पुणे सुपर जायंट से अपना कैरियर शुरू करने वाले राहुल चाहर अब नीली जर्सी में दिखाई देंगे। राहुल चाहर ने 2017 में आईपीएल खेला था। उन्होंने शानदार प्रदर्शन किया था। राहुल चाहर भारत के लिए वनडे और टी-20 खेल चुके दीपक चाहर के छोटे भाई हैं। बड़े भाई की तरह ही राहुल भी तेज गेंदबाज बनना चाहते थे लेकिन दीपक के सुझाव पर ही उन्होंने लेग स्पिनर बनने का फैसला किया। राहुल ने राजस्थान के लिए अंडर 16 व 19 खेला है। अब भी वह राजस्थान के लिए खेलते हैं। 

PunjabKesari
आईपीएल 2018 में मुंबई इंडियंस में उन्हें खेलने का मौका मिला। राहुल को एक करोड़ 80 लाख रुपये में टीम में दो साल के लिए शामिल किया गया। 2018 में एक भी मैच खेलने का मौका नहीं मिला। आईपीएल 2019 में उन्हें मौका मिला। 13 मैचों में सिर्फ 6.55 की इकॉनमी से रन देकर राहुल ने 13 विकेट लिए। उन्हें गेम चेंजर ऑफ द सीजन का अवार्ड भी मिला था। 

दीपक की भी टीम में वापसी 
PunjabKesari
इंग्लैंड दौरे पर वनडे और टी-20 के बाद बाहर हुए दीपक चाहर ने भी अपनी वापसी की है। उनका चयन भी वेस्टइंडीज दौरे के लिए हुआ है। अब दोनों भाई वेस्टइंडीज में साथ खेलेंगे।

.
.
.
.
.