Sports

भुवनेश्वर :  हाकी विश्व कप हाल के समय का सबसे खुला टूर्नामेंट होगा और उनकी टीम को अपने खिताब का बचाव करने के लिए अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करना होगा। उक्त बात कही है ऑस्ट्रेलियाई हॉकी टीम के कप्तान एरेन जालेवस्की ने। भुवनेश्वर पहुंचे जालेवस्की ने कहा कि सभी टीमें एक-दूसरे की बराबरी पर हैं और इसलिए यह बेहद प्रतिस्पर्धी बन गया है। कोई भी टीम जीत सकती है और निश्चित तौर पर भारत को घरेलू दर्शकों के सामने हराना बेहद मुश्किल होगा। 

जालेवस्की ने कहा- हमारे पास दुनिया की सर्वश्रेष्ठ टीमों के खिलाफ खुद को परखने का मौका होगा क्योंकि हमने रियो (2016 ओलंपिक) के बाद खुद को नहीं परखा है। इसलिए हम यहां बहुत अच्छा प्रदर्शन करना चाहते हैं। आस्ट्रेलिया के लिए यह घर वापसी जैसा है। उसने 2014 में यहां चैंपियन्स ट्राफी और 2017 में हाकी विश्व लीग फाइनल जीता था। आस्ट्रेलिया पूल बी में है जहां उसे आयरलैंड, इंग्लैंड और चीन से भिडऩा है। उसके कोच कोलिन बैच ने कहा कि उनकी टीम के लिए यहां तक की पूल चरण में भी मुकाबला आसान नहीं होगा।

बैच ने कहा- हम चैंपियन हैं लेकिन इस टूर्नामेंट को जीतने के लिए लंबा सफर तय करना हैै। हमें काफी काम करना होगा। हमने महिला विश्व कप में देखा जहां कई हैरतअंगेज परिणाम देखने को मिले, इसलिए हमें आयरलैंड के खिलाफ पहले मैच में अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करना होगा और फिर आगे के बारे में सोचना होगा।

.
.
.
.
.