Sports

जकार्ता : इंडोनेशिया में आयोजित 18वें एशियाई खेलों के पुरुष हॉकी टूर्नामेंट में कुल 314 गोल हुए जोकि एक विश्व रिकार्ड है। टूर्नामेंट में सभी टीमों की ओर से कुल मिलाकर 314 गोल किए गए। वर्ष 1908 से लेकर अब तक यह पहली बार है जब किसी भी अंतरराष्ट्रीय टूर्नामेंट में इतने ज्यादा गोल हुए हैं। इससे पहले 2002 में कुआलालम्पुर में आयोजित पुुरुष हॉकी विश्व कप में 300 गोल हुए थे।

पुरुष हॉकी टूर्नामेंट के फाइनल में शनिवार को जापान ने अंतिम मिनटों में जबर्दस्त वापसी करते हुए मलेशिया को पेनल्टी शूटआउट में 3-1 से हराकर स्वर्ण पदक जीता। फाइनल में दोनों टीमों ने निर्धारित समय तक 6-6 गोल किए थे। भारत की पुरुष हॉकी टीम ने टूर्नामेंट में सर्वाधिक गोल करने का भी रिकार्ड बनाया। भारतीय पुरुष टीम ने कई टीमों को काफी बड़े अंतर से हराया। भारत ने इस टूर्नामेंट में पूल मैचों में कुल 76 गोल किए।

विश्व में पांचवें नंबर की भारतीय टीम ने टूर्नामेंट के पहले मैच में इंडोनेशिया को 17-0 से हराया था, दूसरे मैच में भारत ने हांगकांग को 26-0 से रौंदा, तीसरे मैच में जापान को 8-0, चौथे मैच में कोरिया को 5-3 और पांचवें मैच में श्रीलंका को 20-0 से पीटा था। लेकिन सेमीफाइनल में भारत मलेशिया की चुनौती से पार नहीं पा सका और उसे सडन डैथ में 6-7 से सनसनीखेका हार का सामना करना पड़ा। इस टूर्नामेंट में दक्षिण कोरिया के जांग जोंग्युन ने सर्वाधिक 15 गोल किए। भारत के रूपिंदर पाल सिंह और आकाशदीप सिंहने 13-13 गोल किए।

.
.
.
.
.