National

श्रीनगर: जम्मू- कश्मीर के शिक्षा मंत्री सैयद मुहम्मद अल्ताफ बुखारी को आज राज्य के वित्त मंत्रालय का अतिरिक्त भार सौंपा गया। अधिकारियों ने आज यह जानकारी दी। मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने कश्मीर पर विवादित बयान देने के लिए कल ही हसीब द्राबू को वित्त मंत्री के पद से हट दिया था। द्राबू ने टिप्पणी की थी कि कश्मीर एक राजनीतिक मसला नहीं है। मुख्यमंत्री की ओर से हस्ताक्षरित एक अधिसूचना में कहा गया कि पीडीपी के संस्थापक सदस्यों में से एक बुखारी को अंतरिम उपाय के मद्देनजर वित्त मंत्रालय के साथ ही श्रम और रोजगार मंत्रालय का कार्यभार सौंपा गया है।

राज्य में पीडीपी- भाजपा गठबंधन के सूत्रधारों में से एक द्राबू को कल उनकी टिप्पणी के लिए पद से हटा दिया गया था जिसमें उन्होंने कहा था कि, लोग गलत सोच रख रहे हैं, क्योंकि कश्मीर मुद्दा एक राजनीतिक मुद्दा नहीं है। शुक्रवार को पीएचडी वाणिज्य एवं उद्योग मंडल द्वारा नयी दिल्ली में आयोजित एक कार्यक्रम में द्राबू ने कहा था, जहां तक मैं देख सकता हूं यह( जम्मू- कश्मीर) एक राजनीतिक मुद्दा नहीं है। वे पिछले 50 या 70 सालों से इसकी राजनीति की बात कर गलत विचार रख रहे हैं कि राजनीतिक स्थिति में कभी सुधार नहीं हुआ। हमें गंभीरता से यह देखने की जरूरत है कि यह कैसा समाज है जो अपनी ही खोज में है।’
 

.
.
.
.
.