Sports

बोगोटा: अंतरराष्ट्रीय फुटबॉल महासंघ (फीफा) के अध्यक्ष ग्यानी इन्फेंटिनो ने विश्वकप टूर्नामैंट में 48 टीमों को शामिल करने का सुझाव दिया है।  कोलंबिया के सर्जियो अरबोलेदा यूनिवर्सिटी में अपने भाषण के दौरान इन्फेंटिनो ने कहा कि विश्वकप में 48 देशों को मौका मिलना चाहिए। इन्फेंटिनो ने अपने चुनाव के समय विश्वकप में कम से कम 40 देशों की टीमों को शामिल करने का वादा किया था।  

फीफा प्रमुख ने कहा कि विश्वकप में 48 देशों को मौका देने जैसे विचारों से सर्वश्रेष्ठ हल निकलेगा। ऐसे सुझाव पर चर्चा के लिए इस महीने हम एक बैठक करेंगे और मुझे उम्मीद है कि 2017 तक हम इस पर अंतिम फैसला ले लेंगे। इन्फेंटिनो का मानना है कि इन 48 टीमों में से 16 टीमें सीधे ग्रुप चरण में प्रवेश करेंगी जबकि अन्य 32 टीमें शुुरुआती चरण के मैच खेलेंगी।  

इन्फेंटिनो ने कहा कि फीफा का विचार विश्वभर में फुटबॉल को अधिक लोकप्रिय बनाना है और विश्वकप एक बहुत बड़ा टूर्नामैंट है। इसलिए इसमें अधिकतर लोगों को शामिल करना हमारा लक्ष्य होना चाहिए। हालांकि फीफा प्रमुख के इस विचार को जर्मनी के कोच जोआकिम लो ने यह कह कर खारिज कर दिया कि इससे खेलों का महत्व कम होगा। वहीं यूरोपियन क्लब ने भी इसका विरोध किया है।