Sports

नई दिल्ली: वीरेंद्र सहवाग जैसे विस्फोटक बल्लेबाज़ ने दुनिया भर के गेंदबाज़ों को धोया है लेकिन शायद ही कोई जानता होंगा कि वह एक फिरकी गेंदबाज से डरते थे। हाल ही में रहस्य को खोलते हुए सहवाग ने बताया कि श्रीलंका के पूर्व दिग्गज स्पिनर मुथैया मुरलीधरन से उन्हें डर लगता था। यह काॅफी चौंकाने वाली बात है क्योंकि आम तौर पर बैटसमैन तेज़ गति से गेंद फैंकने वालों से डरते हैं ना कि किसी स्पिनर से।

सहवाग ने माना कि मुरलीधरन के सामने बल्लेबाजी करना बहुत मुश्किल था। उन्होंने माना कि शोएब अख्तर और ब्रैट ली के अलावा उस दौर के किसी भी गेंदबाज से उन्हें डर नहीं लगता था, लेकिन मुरलीधरन का बॉलिंग और चेहरे के हाव-भाव खौफ पैदा कर देते थे। वह अक्सर ‘दूसरा’ फैंकते थे और उस गेंद को खेलना 
सहवाग को बहुत मुश्किल लगता था।

PunjabKesari


सहवाग ने भारत की तरफ से 104 और 251 एकदिविसीय मैच खेंले थे। टेस्ट क्रिकेट में ट्रिपल सेंचुरी लगाने वाले पहले खिलाड़ी बनने के अलावा वनडे में भी वह दोहरा शतक लगाने का कमाल कर चुके हैं।