Sports

( तस्वीरे अमृता मोकल और चेसबेस इंडिया के सौजन्य से ) 

पटना , बिहार ( निकलेश जैन ) खादी इंडिया नेशनल प्रीमियर शतरंज चैंपियनशिप 2017  में आज 8 वे राउंड में अब तक सबसे आगे चल रहे युवा ग्रांड मास्टर अरविंद चितांबरम नें अपने नजदीकी प्रतिद्वंदी ग्रांड मास्टर सुनील नारायण को बेहद ही शानदार खेल से पराजित करते हुए अपने कदम अब खिताब की ओर बढ़ा दिये है आज की उनकी जीत नें उनके बेहतरीन लय के साथ -साथ यह भी दिखाया की फिलहाल इस प्रतियोगिता में कोई लगातार बेहतर परिणाम दे पा रहा है तो सिर्फ अरविंद चितांबरम ही है । आज सात मैच में से 4 मैच के परिणाम सामने आए और तीन मैच अनिर्णीत रहे । खैर आज का दिन पूरी तरह से अरविंद के नाम  रहा तो आज सफ़ेद मोहोरो से किंग पान ओपनिंग के राय लोपेज वेरिएसन में यह मुक़ाबला खेला गया । 15 वी चाल तक सब कुछ सामान्य चल रहा था तभी अरविंद नें अपने घोड़े को सुनील के राजा के तरफ ले जाने की योजना बनाई और 18वी चाल मे अपने सफ़ेद खाने के ऊंट की अदला बदली करते हुए अपने घोड़े को सुनील के राजा के तरफ पहुंचा दिया ,इससे पहले की सुनील कुछ समझ पाते अरविंद नें अपना काले खाने का ऊंट कुर्बान करते हुए राजा के सामने के दो प्यादे लेते हुए अपने दो घोड़े से सुनील के राजा के उपर हमला कर दिया । ऐसे मे सुनील को अपने राजा के बचाव में उम्दा चाले चलनी थी पर दबाव में वह गलतियाँ करते चले गए बचाव करने की जगह उन्होने भी हमलावर रुख अपनाया और इससे उनके राजा के उपर संकट इतना बढ़ा की उन्हे बचाव में दो मोहरे देने पड़ गए मोहरो की अदला बदली के बीच 42 वी चाल तक के खेल में दोनों के पास हाथी और राजा बचे थे ,पर अरविंद के पास चार प्यादे तो सुनील के पास दो प्यादे थे और 56 में अंततः अरविंद विजयी रहे और जीत के साथ ही उनकी बढ़त अब 1 अंक की हो गयी है । 

PunjabKesari

खराब लय से जूझ रहे हिमांशु शर्मा के लिए बुरा दौर खत्म होने का नाम ही नहीं ले रहा और आज उन्हे अर्घ्यदीप दास के हाथो पराजय का सामना करना पड़ा । कारो कान ओपनिंग में काले मोहरो से खेल रहे हिमांशु के मोहरे आज जगह की कमी से जूझते रहे और अगर देखा जाए तो उनमे आत्मविश्वास की कमी साफ झलक रही है और यह उनकी कई मौको पर चली चालों से साफ समझ आ रहा है । 

PunjabKesari

पूर्व विजेता मुरली कार्तिकेयन आज श्याम निखिल के हाथो उलटफेर का शिकार हो गए और इसके साथ ही उनके लगातार तीसरी बार राष्ट्रीय खिताब जीतने की संभावना अब कमजोर पड़ गयी है । सिसिलिन नजडोर्फ में सफ़ेद मोहरो से खेल रहे मुरली पर निखिल उनके राजा के ओर दबाव बनाने में सफल रहे और 29 चाल में एक भूल नें उनके एक हाथी को कुछ यूं भटकाया की उन्हे अपने कई प्यादे गवाने पड़े और 42 चाल का मंजर कुछ यूं था की जहां मुरली के पास एक हाथी और दो प्यादे थे तो निखिल के पास एक घोडा और 6 प्यादे और मात्र 48वी चाल में खेल निखिल के पक्ष में खत्म हुआ । 

PunjabKesari

वही आज नेशनल चैलेंजर विजेता दीपन चक्रवर्ती नें लय में लौटते हुए सम्मेद शेटे को पराजित करते हुए उन्होने 40 चालों में जीत दर्ज की । सिसिलियन नजडोर्फ में हुए इस मुक़ाबले में दीपन शुरुआत से ही पकड़ बनाने में कामयाब रहे और इस जीत से एक बार फिर उनके पास लगातार जीत दर्ज कर शीर्ष पर लौटने का रास्ता खुल गया है । 

 

इसके अलावा आज स्वप्निल धोपाड़े नें देबाशीष दास से , आरआर लक्ष्मण नें एस नितिन से और अभिजीत कुंटे नें रोहित ललित बाबू से ड्रॉ खेला । 

 

आठ राउंड के बाद अरविंद 6 अंक के साथ पहले ,रोहित और अर्घ्यदीप 5 अंको के साथ संयुक्त  दूसरे ,मुरली और सुनील 4.5 अंको के साथ सयुंक्त तीसरे स्थान पर सरक गए है । अन्य खिलाड़ियों में नितिन ,लक्ष्मण ,देबाशीष और स्वप्निल 4 अंको पर ,अभिजीत ,निखिल और दीपन 3.5 अंको पर , सम्मेद शेटे 2.5 अंक पर pkऔर बेहद खराब लय से जूझ रहे हिमांशु 2 अंको ओर खेल रहे है । 

अब सुने मैच का हाल भी !