Sports

मुंबई: डिफेंडर अनस इदाथोडिका और मिडफील्डर युजेनसन लिंगदोह इंडियन सुपर लीग के खिलाड़ी ड्राफ्ट में आज यहां सबसे महंगे खिलाड़ी बने जिनके लिए क्रमश: नई टीम जमशेदपुर एफसी और 2 बार के चैंपियन एटीके ने एक करोड़ 10 लाख रूपए की समान बोली लगाई। 

पहले 4 दौर में गोलकीपर सुब्रत पाल को जमशेदपुर ने 87 लाख रूपए जबकि राइट बैक प्रीतम कोटल को दिल्ली डाइनामोज ने 75 लाख रुपए में खरीदा। एटीके के कोच टेडी शेरिनघम ने कहा कि वह (लिंगदोह) हमारी नंबर एक पसंद था। वह गोल भी कराता है और टीम के लिए महत्वपूर्ण होना चाहिए। 

जमशेदपुर एफसी के मुख्य कोच स्टीव कोपेल ने कहा कि भारतीय खिलाड़ियों को चुनना प्राथमिकता था। विदेशी खिलाड़ियों के चयन पर फैसला जल्द ही किया जाएगा। हमारी टीम बेहतरीन और हमने अच्छे खिलाड़ी चुने हैं। मुंबई सिटी एफसी ने स्ट्राइकर बलवंत सिंह को तीसरे दौर में 67 लाख रूपए और गोलकीपर अरिंदम भट्टाचार्य (64 लाख) को चौथे राउंड में खरीदा। केरल ब्लास्टर्स ने रिनो एंटो को 63 लाख रूपए में अपनी टीम के साथ जोड़ा।  एफसी गोवा ने प्रणय हलदर (58 लाख) और नारायण दास (58 लाख) में खरीदा जबकि चेन्नईयिन एफसी ने थोई सिंह के लिए 57 लाख रूपए खर्च किए।  पहले चार दौर के बाद कुल 24 खिलाडयिों को खरीदा गया। आईएसएल की संस्थापक अध्यक्ष नीता अंबानी ने इससे पहले घोषणा की कि हीरो मोटोकोर्प ने लीग का टाइटिल प्रायोजन तीन साल के लिए बढ़ा दिया है जो 160 करोड़ रपये का होगा।