Sports

राजकोट: कप्तान विराट कोहली की जुझारू पारी की बदौलत भारत विषम परिस्थतियों से उबरते हुए इंग्लैंड के खिलाफ पहला क्रिकेट टेस्ट ड्रा कराने में सफल रहा।  इंग्लैंड के 310 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए भारत ने लेग स्पिनर आदिल राशिद (64 रन पर तीन विकेट) और बाएं हाथ के स्पिनरों जफर अंसारी (41 रन पर एक विकेट) और मोईन अली (47 रन पर एक विकेट) की बलखाती गेंदों के सामने एक समय 71 रन पर चार विकेट गंवा दिए थे लेकिन कप्तान कोहली (नाबाद 49), रविचंद्रन अश्विन (32), रविंद्र जडेजा (नाबाद 32) और मुरली विजय (31) की पारियों की बदौलत छह विकेट पर 172 रन बनाकर मैच ड्रा करा दिया। इंग्लैंड और भारत के टेस्ट मैच के आखिरी दिन दस ऐसे रिकॉड्र्स जिसने सभी को चौंका दिया। आइये नजर डालते हैं राजकोट टेस्ट के आखिरी दिन बने सभी रिकॉड्र्स पर:

1. विराट कोहली (49 नॉटआउट) ने इंग्लैंड के खिलाफ 10 टेस्ट मैचों में दूसरा सर्वश्रेष्ठ स्कोर बनाया। इससे पहले दिसंबर 2012 में उन्होंने 103 रन की पारी खेली थी।

2. विराट कोहली की कप्तानी में अब भारतीय टीम बिना हार के 14 टेस्ट लगातार खेल चुकी है।

3.एलिस्टेयर कुक और हसीब हमीद के बीच पहले विकेट के लिए 180 रनों की साझेदारी हुई। भारत में ये इंग्लैंड के तरफ से पहले विकेट की सबसे बड़ी साझेदारी रही।

 4. घर में लगातार 5 टेस्ट जीतने के बाद आखिरकार भारत को इस मैच में ड्रॉ से संतोष करना पड़ा।

5.कोहली ने टेस्ट मैचों की 15 पारियों (चौथी पारी) में 65.27 एवरेज से 718 रन बनाए हैं। ये एवरेज दूसरी पारी में किसी भी भारतीय बल्लेबाज द्वारा सर्वश्रेष्ठ है।

6. आदिल राशिद ने पहले टेस्ट में 187 रन देकर 7 विकेट झटके। ये टेस्ट में राशिद का बेस्ट बॉलिंग फिगर रहा। इससे पहले उन्होंने अबुधाबी में अक्टूबर 2015 में पाकिस्तान के खिलाफ 227 रन पर 5 विकेट झटके थे।

7. इस साल विराट कोहली से ज्यादा अंतर्राष्ट्रीय रन सिर्फ जो रूट ने बनाए हैं। कोहली ने 81.16 की जबरदस्त औसत से 2029 रन बनाए हैं, वहीं रूट ने 51.32 की औसत से 2207 रन बनाए हैं।

8. इंग्लैंड टीम में इस साल जॉनी बैस्टो, जो रूट और एलिस्टेयर कुक 1000 से ज्यादा रन बना चुके हैं। इनके बाद इस साल टेस्ट में सबसे ज्यादा रन मोइन अली के नाम हैं।

9. मोइन अली को टेस्ट का तीसरा मैन ऑफ द मैच अवॉर्ड मिला। इससे पहले 2016 में उन्हें बर्मिंघम टेस्ट में पाकिस्तान (149 रन और दो विकेट) के खिलाफ और पिछले साल दक्षिण अफ्रीका (7 विकेट) के खिलाफ डर्बन में भी मोइन अली को मैन ऑफ द मैच अवॉर्ड से नवाजा गया था।

10. डेब्यू टेस्ट में हसीब हमीद की 82 रन की पारी भारत के खिलाफ अब तक की दूसरी सर्वश्रेष्ठ पारी थी। पहले नम्बर पर हैं कप्तान एलिस्टेयर कुक, जिन्होंने 2005-06 में नागपुर टेस्ट में 104* रन की पारी खेली थी।