Sports

कोलकाताः दो मैचों में सात गोल गंवाने के बाद नाकआउट की दौड से लगभग बाहर हो चुके चिली के कोच हर्नान कापुटो को अभी भी फीफा अंडर 17 विश्व कप में वापसी की उम्मीद है। इंग्लैंड से हारने के तीन दिन बाद चिली को इराक के हाथों 0 . 3 से पराजय झेलनी पड़ी ।  

अर्जेंटीना के पूर्वगोलकीपर कापुटो ने कहा ,‘‘ पहले भी ऐसा हुआ है कि दो मैच हारने के बाद बड़े अंतर से जीतकर टीमें नाकआउट में पहुंचे हैं । हम भी ऐसा ही करना चाहेंगे।’’ उन्होंने हार का ठीकरा खिलाडिय़ों पर फोडऩे की बजाय खुद इसकी पूरी जिम्मेदारी ली ।   

उन्होंने कहा ,‘‘ दो मैचों में सात गोल गंवाना काफी खराब प्रदर्शन था । हमारे लिये यह कठिन क्षण हैं । खिलाडिय़ों को समझ में ही नहीं आ रहा कि आखिर दो मैचों में क्या हुआ। इसकी जिम्मेदारी मेरी है ।हम इस हार पर आत्ममंथन करेंगे और अपनी गलतियों से सबक लेकर उतरेंगे।’’  इंग्लैंड दो मैचों में छह अंक लेकर प्री क्वार्टर फाइनल में पहुंच चुका है जबकि इराक ने भी अगले दौर में पहुंचने की संभावना प्रबल कर ली है । मैक्सिको तीसरे स्थान पर है और चिली बिना किसी अंक के चौथे स्थान पर है ।