Sports

नई दिल्ली: भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) ने कई पूर्व भारतीय क्रिकेटरों को एकमुश्त अनुग्रह राशि देने का फैसला किया है जिसमें मौजूदा राष्ट्रीय चयनकर्ता देवांग गांधी, सरनदीप सिंह के अलावा गेंदबाजी कोच भरत अरूण भी शामिल हैं। पता चला है कि बीसीसीआई ने 55 पूर्व भारतीय खिलाडिय़ों की सूची तैयार की है जिन्हें या तो भुगतान के पहले चरण में राशि नहीं दी गई या उन्हें बाकी बचे हिस्से का भुगतान होना है।

इनमें से अधिकांश ने 10 से कम टेस्ट मैच खेले हैं। शुरआती सूची में कई खिलाडियों का नाम नहीं था जबकि कुछ को स्वीकृत 35 लाख रूपए में से 30 लाख रूपए ही मिले थे। सभी क्रिकेटरों को शामिल करने के लिए नई सूची बनाई गई है। जिन जाने माने नामों को इस सूची में जगह मिली है उनमें पूर्व भारतीय आलराउंडर रोबिन सिंह, स्टार क्रिकेटर युवराज सिंह के पिता योगराज सिंह, प्रतिष्ठित गेंदबाजी कोच टीए शेखर, विकेटकीपर बल्लेबाज विजय दाहिया शामिल हैं।

चयन समिति से बाहर हुए जतिन परांजपे के अलावा पूर्व तेज गेंदबाज संजीव शर्मा और सलील अंकोला को भी सूची में जगह मिली है। वर्ष 1970 और 1980 के दशक के टेस्ट क्रिकेटर केनिया जयंतीलाल, सुधीर नाईक, राजू कुलकर्णी भी इस सूची में शामिल हैं। इस बीच प्रकाश भट्ट, मिलिंद प्रधान, अरमान मलिक, राकेश पारिख, शंकर सैनी जैसे पूर्व प्रथम श्रेणी क्रिकेटरों का भारतीय क्रिकेट टीम के प्रशासनिक मैनेजर के पद के लिए साक्षात्कार लिया जाएगा।