Sports

नई दिल्ली: बीसीसीआई अध्यक्ष अनुराग ठाकुर ने आज लोढ़ा कमेटी की सिफारिशों के मामले में सुप्रीम कोर्ट में हलफनामा दायर किया। अनुराग ने अपने हलफनामे में कहा कि पूर्व बीसीसीआई अध्यक्ष शशांक मनोहर ने उनके द्वारा लिए गए स्टैंड के बारे में मुझे बताया था, मामला कोर्ट में लंबित था और इस पर फैसला नहीं आया था। बोर्ड ने लोढ़ा कमेटी की सिफारिशों को लेकर शनिवार को एक विशेष मीटिंग बुलाई थी और इस बैठक में बीसीसीआई ने लोढ़ा कमेटी के कुछ सुधारों पर अपना विरोध जारी रखने का फैसला किया।

गौरतलब है कि बीसीसीआई ने साफ तौर पर कहा कि ‘एक राज्य, एक वोट’, ‘एक व्यक्ति, एक पद’ और ‘ब्रेक की अवधि’ विवादित मसले बने हुए हैं। पिछली सुनवाई में  सुप्रीम कोर्ट ने अनुराग ठाकुर को हलफनामा देकर यह स्पष्ट करने को कहा कि क्या उन्होंने आईसीसी को यह कहने के लिए लिखा कि लोढ़ा समिति के सुझाव सरकारी दखल के समकक्ष है। सूत्रों के मुताबिक क्रिकेट बोर्ड के लिए उन मसलों पर अपना पक्ष रखने का यह आखिरी मौका है जो उसके मुताबिक उसकी कार्यप्रणाली को प्रभावित कर रहे हैं। माना जा रहा है कि सुप्रीम कोर्ट आज बीसीसीआई को अहम निर्देश दे सकता है।