Sports

मस्कट : मलेशिया के खिलाफ अपने पहले मैच में 9-0 से जीत हासिल कर महिला एशिया कप में अपने अभियान की शानदार शुरुआत करने के बाद भारतीय महिला हॉकी टीम एशियाई खेलों के गत चैम्पियन जापान के खिलाफ रविवार को 0-2 से हार गई। ओमान के मस्कट में रविवार को यहां दूसरा पूल ए के मैच में यूरी नागाई (2) और साकी तनाका (42) द्वारा गोल किए और अपनी टीम को जीत दिलाई। इसके साथ ही जापान ने तीन अंक भी हासिल कर लिए। मैच के दूसरे मिनट में जापान द्वारा किए गए पहले गोल ने भारत को बैकफुट पर ला खड़ा किया। हालांकि दबाव में, भारतीय फारवडर्लाइन ने स्ट्राइकिंग सकर्ल के भीतर मौके बनाए और पेनल्टी कॉर्नर भी जीते जो उन्हें बराबरी दिला सकते थे, लेकिन टीम उन अवसरों को गोल में तब्दील नहीं कर सकी।

भारत ने दूसरे क्वार्टर में अटैक किया और अनुशासित खेल दिखाने के साथ बेहतर प्रदर्शन किया जबकि जापान ने 15 मीटर के दायरे में मौके बनाए, जबकि भारत के डिफेंस ने यह सुनिश्चित किया कि जापानी स्ट्राइकरों द्वारा कोई और गोल न किया जाए। हालांकि भारतीय फारवर्ड नवनीत कौर, शर्मिला देवी, लालरेम्सियामी और वंदना कटारिया को गोल के मौके मिले लेकिन वे मजबूत जापानी डिफेंस को भेद नहीं सकीं, खासकर अनुभवी जापानी गोलकीपर इका नाकामुरा, जिन्होंने भारतीयों को गोल करने से रोका और शानदार बचाव किए।

दस मिनट के हाफ टाइम ब्रेक के बाद भारत ने 0-1 के झटके से उबरने के इरादे से वापसी की औऱ गेंद को गोलपोस्ट में डालने के लिए जबर्दस्त संघर्ष किया। इसके बाद 42वें मिनट में किए गए जापान के गोल ने भारत पर और दबाव बना दिया। अंतिम क्वाटर्र में लड़ते हुए भारत ने मजबूत वापसी की और यहां तक कि दो पेनल्टी कॉर्नर तक अर्जित किए। लेकिन न तो दीप ग्रेस और न ही गुरजीत कौर गेंद को नेट में डाल सकीं और इस तरह भारत 0-2 से हार गया।

.
.
.
.
.