Sports

नई दिल्ली : भारत की युवा महिला हॉकी खिलाड़ी मुमताज खान का कहना है कि वह वरिष्ठ महिला हॉकी टीम की नियमित खिलाड़ी बनना चाहती हैं, जिसके लिए वह अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने के लिए तैयार हैं। मुमताज ने हॉकी इंडिया से कहा कि मैं राष्ट्रीय टीम की नियमित खिलाड़ी बनना चाहती हूं। उसके लिये मुझे बेहद मेहनत करनी होगी। मैं अपने लक्ष्य तक पहुंचने के लिये अपना सर्वश्रेष्ठ प्रयास करूंगी और देश के लिए मैच एवं पदक जीतने में योगदान दूंगी। 


भारत के सबसे उज्ज्वल युवा खिलाड़यिों में से एक मुमताज़ को एफआईएच स्टार अवॉड्र्स 2021-22 में ‘साल का उभरता हुआ सितारा’ पुरस्कार के लिए नामांकित किया गया है। मुमताज ने नामांकन के बारे में कहा कि मैं एफआईएच साल का उभरता हुआ सितारा (महिला) पुरस्कार के लिए नामांकित होने पर बहुत खुश हूं। यह मेरे लिए बहुत बड़ा क्षण है और वह भी मेरे करियर की शुरुआत में। यह उपलब्धि हालांकि मेरी नहीं है बल्कि पूरी टीम के एक साथ अच्छे से काम करने का परिणाम है। इस तरह की मान्यता बहुत प्रेरक है। 


19 साल की मुमताज भारतीय जूनियर महिला हॉकी टीम की उत्कृष्ट खिलाड़ी रह चुकी हैं। उन्होंने 2022 एफआईएच जूनियर विश्व कप में सर्वाधिक 8 गोल किए थे, जबकि भारत टूर्नामेंट में चौथे स्थान पर रहा था। मुमताज ने जूनियर टीम के अनुभव पर कहा, 2022 एफआईएच जूनियर विश्व कप एक कठिन टूर्नामेंट था लेकिन हमने अच्छा खेला और मैं इस तथ्य से खुश हूं कि मैंने इतने गोल किए। लेकिन अगर हम पोडियम पर समाप्त होते तो मुझे खुशी होती। 


मुमताज के अलावा हरमनप्रीत सिंह (साल के सर्वश्रेष्ठ पुरुष खिलाड़ी), सविता पूनिया (साल की सर्वश्रेष्ठ महिला गोलकीपर) श्रीजेश (साल के सर्वश्रेष्ठ पुरुष गोलकीपर), संजय (साल का उभरता हुआ सितारा, पुरुष), ग्राहम रीड (साल के सर्वश्रेष्ठ पुरुष टीम कोच) और जैनेक शोपमैन (साल की सर्वश्रेष्ठ महिला टीम कोच) को एफआईएच स्टार अवॉड्र्स में नामांकित किया गया है।

.
.
.
.
.