Sports

मैड्रिड : भारतीय महिला हॉकी टीम के मुख्य कोच शोर्ड मारिन ने स्पेन के खिलाफ पांच मैचों की श्रृंखला के शुरूआती मैच से पहले कहा कि भारतीय टीम को अपने डिफैंस पर मेहनत करनी होगी। पांचवीं एशियाई चैम्पियंस ट्राफी के फाइनल में कोरिया से एक गोल से हारने के बाद भारत को रजत पदक से संतोष करना पड़ा था। भारतीय आक्रमण पंक्ति का प्रदर्शन अच्छा रहा जिसमें नवनीत कौर और वंदना कटारिया ने तीन तीन गोल दागे।

मारिन ने कहा कि भारत को विरोधी टीम को गोल करने से रोकना होगा। उन्होंने कहा- हमने दक्षिण कोरिया में निर्बाध हाकी खेली और फारवर्ड का प्रदर्शन अच्छा रहा। स्पेन के खिलाफ इन पांच मैचों में हमें उस समय सुनियोजित हाकी खेलने पर फोकस करना है जब गेंद हमारे नियंत्रण में नहीं है। उन्होंने कहा- हमें अपने डिफेंस पर मेहनत करनी होगी और यह सुनिश्चित करना होगा कि आसानी से गोल नहीं गंवाए। डिफेंस अच्छा होने पर मैच जीतने के मौके बढ़ जाते हैं।

डच कोच ने कहा कि भारतीय टीम को विश्व रैंकिंग में अपने से एक पायदान नीचे 11वें स्थान पर काबिज टीम से कड़ी चुनौती मिलेगी। उन्होंने कहा- हमारे विरोधी अपनी सरजमीं पर खेल रहे हैं और हालात से वाकिफ है। उनका हालिया प्रदर्शन अच्छा रहा है लिहाजा हमारे लिए चुनौती कड़ी होगी। हमें अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करना होगा।

.
.
.
.
.