Sports

नई दिल्लीः भारतीय कप्तान रानी रामपाल का मानना है कि स्पेन दौरा युवा खिलाडिय़ों के लिये हाॅकी विश्व कप टीम में जगह बनाने का सुनहरा मौका है और इस दौरे के जरिए टीम नए तकनीकी बदलावों को भी परख सकती है । भारत की 20 सदस्यीय टीम आज स्पेन रवाना हो गई ।      

कइयों के लिए पहला अनुभव होगा
रानी की अगुवाई वाली टीम स्पेन के खिलाफ पांच मैच खेलेगी जिसका आगाज 12 जून को मैड्रिड से होगा । रानी ने कहा ,‘‘ युवाओं ने एशियाई चैम्पियंस ट्राॅफी में अच्छा प्रदर्शन किया और स्पेन में उस लय को कायम रख सके तो लंदन में होने वाले विश्व कप के लिए टीम में जगह बना सकते हैं । ’’ जुलाई में विश्व कप के बाद अगस्त में एशियाई खेल होने हैं और रानी ने कहा कि अपने खेल में नए बदलावों पर अमल करने का यह आखिरी मौका है । उसने कहा ,‘‘ हम आठ साल बाद विश्व कप खेल रहे हैं । सभी के लिये यह बड़ा मौका है और कइयों के लिए पहला अनुभव होगा । ’’ 

उसने कहा ,‘‘ राष्ट्रमंडल खेलों में अच्छे प्रदर्शन के बाद हम अंडरडॉग की तरह नहीं जाना चाहते । विश्व कप में हमारे प्रदर्शन का असर एशियाई खेलों में प्रदर्शन पर पड़ेगा । स्पेन दौरा तमाम प्रयोगों के लिये आखिरी मौका है । ’’ रानी ने कहा ,‘‘ विश्व कप से पहले तरोताजा रहना जरूरी है । 20 खिलाडिय़ों के रहने से कोच के पास रोटेशन का अच्छा विकल्प होगा । ’’ 

.
.
.
.
.