Sports

नई दिल्ली : भारत के भाला फेंक के स्टार खिलाड़ी नीरज चोपड़ा ने कहा है कि वह 90 मीटर का प्रयास करने के दबाव से मुक्त होना चाहते हैं और सबसे पहले इस साल 87 से 88 मीटर के प्रयास में निरंतरता हासिल करना चाहते हैं। पिछले साल कई रिकार्ड बनाने वाले नीरज अगले साल होने वाले ओलंपिक खेलों को देखते हुए आगामी सत्र को काफी महत्वपूर्ण मानते हैं।

Neeraj Chopra Eyes Consistency in 90m Push

दक्षिण अफ्रीका के पोटचेफस्ट्रूम में ट्रेनिंग कर रहे नीरज ने कहा- पिछले साल मैं लगातार 85 से 86 मीटर का प्रयास कर रहा था। इस साल मैं 87 से 88 मीटर के प्रदर्शन में निरंतरता चाहता हूं और अगर संभव हुआ तो 90 मीटर में। अगर मैं ऐसा कर पाया तो मुझे खुशी होगी। प्रदर्शन में निरंतरता महत्वपूर्ण है। उन्होंने कहा- लेकिन मैं अपने ऊपर कोई दबाव नहीं बनाऊंगा कि मुझे 90 मीटर को पार करना है। मैं जब भी प्रतियोगिता में उतरता हूं तो अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने के बारे में सोचता हूं।

Neeraj Chopra Eyes Consistency in 90m Push

नीरज ने 2016 में जूनियर विश्व रिकार्ड बनाया था और पिछले साल उन्होंने राष्ट्रमंडल खेलों और एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक जीते। पानीपत के खांद्रा गांव के नीरज 12 जनवरी से पोटचेफस्ट्रूम के नार्थ वेस्ट यूनिर्विसटी कैंपस में ट्रेनिंग कर रहे हैं और इस महीने के अंत तक वहां रहेंगे। नीरज को पटियाला में 15 से 18 मार्च तक होने वाली फेडरेशन कप राष्ट्रीय चैंपियनशिप में हिस्सा लेने से छूट देने की तैयारी है जो दोहा में 19 से 24 अप्रैल तक होने वाली एशियाई चैंपियनशिप का चयन ट्रायल है।

Neeraj Chopra Eyes Consistency in 90m Push

उन्होंने कहा- पिछला सत्र काफी संतोषजनक था, मैंने दो बड़ी बहु खेल प्रतियोगिताओं में स्वर्ण पदक जीता और फिर अपने राष्ट्रीय रिकार्ड में सुधार किया। यह साल काफी महत्वपूर्ण है, एशियाई चैंपियनशिप और विश्व चैंपियनशिप (28 सितंबर से छह अक्टूबर) होनी है, डायमंड लीग सीरीज प्रतियोगिताओं को मत भूलिए।

Neeraj Chopra Eyes Consistency in 90m Push

नीरज 2017 लंदन विश्व चैंपियनशिप के फाइनल के लिए क्वालीफाई करने में नाकाम रहे थे। वह 83 मीटर के क्वालीफिकेशन स्तर को हासिल करने में विफल रहे थे और शुरुआती दौर में उनका 3 प्रयासों में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 82 .26 मीटर रहा।

.
.
.
.
.