Sports

स्पोर्ट्स डेस्क: (अतुल वर्मा) साल 2007 के पहले टी-20 वर्ल्ड कप का भारत बनाम पाकिस्तान के बीच वो खिताबी हाईवोल्टेज महामुकाबला आपको याद होगा। उस मुकाबले में कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने बड़ा दाव चलते हुए जिस गेंदबाज को आखिरी ओवर के लिए गेंद थमाई थी, वो गेंदबाज टीम इंडिया की जीत का हीरो बनकर उभरा था और भारत को यादगार जीत दिलवाई थी। जी हां, हम बात कर रहे हैं जोगिंदर शर्मा की और आज वो अपना 36वां जन्मदिन मना रहे हैं। बता दें कि जोगिंदर शर्मा मौजूदा समय में ब्लू जर्सी में नहीं बल्कि खाकी जर्सी में देश के लिए अपनी सेवाएं दे रहे हैं।

एमएस धोनी के साथ शुरू किया था अंतर्राष्ट्रीय करियर

PunjabKesari

हरियाणा के रोहतक में पान की दुकान चलाने वाले के घर जन्मे जोगिंदर शर्मा ने महेंद्र सिंह धोनी के साथ अपना अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट करियर शुरू किया था। साल 2004 में बांग्लादेश दौरे के लिए जोगिंदर शर्मा का चयन हुआ था और गांगुली की कप्तानी में उन्हें वनडे टीम में मौका मिला था। उसके बाद धोनी की कप्तानी में ही उन्हें टी-20 वर्ल्ड कप में मौका मिला था।

जोगिंदर शर्मा का टी-20 वर्ल्ड कप में वो आखिरी ओवर

आखिरी ओवर : जोगिंदर शर्मा बनाम मिस्बाह-उल-हक

आखिरी ओवर में पाकिस्तान को जीतने के लिए सिर्फ 13 रन चाहिए थे, जोगिंदर ने पहली गेंद वाइड फेंकी। अगली गेंद, जो वाइड के बदले फेंकी, उस गेंद पर मिस्बाह चूक गए। उस गेंद पर कोई रन नहीं बना। इसके बाद जोगिंदर ने फुलटॉस गेद फेंकी, जिस पर मिस्बाह ने छक्का जड़कर पाकिस्तानी उम्मीदों को फिर जगा दिया था। इससे अगली गेंद ने टीम इंडिया को झूमने का मौका दे दिया। मिस्बाह ने स्कूप शॉट खेलते हुए गेंद को शॉर्ट फाइन लेग की ओर उछाला, जिसे श्रीसंत ने लपक और भारत ने पहला टी-20 वर्ल्ड कप 5 रनों से जीत लिया

टीम इंडिया का गेंदबाज हरियाणा पुलिस में बन गया डीएसपी

PunjabKesari

2007 के टी-20 वर्ल्ड कप के बाद जोगिंदर शर्मा को इंग्लैंड के खिलाफ टीम में मौका मिला था, लेकिन वो कुछ खास नहीं कर पाए। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ एक टूर्नामेंट के सेमीफाइनल मैच में उन्होंने 3 ओवर में 37 रन देकर 2 विकेट झटके थे। जोगिंदर शर्मा ने अपना आखिरी वनडे मैच साल 2007 में श्रीलंका के खिलाफ खेला था। 2007 के बाद वो कभी वनडे टीम में वापसी ही नहीं कर सके, लेकिन टी-20 वर्ल्ड कप जीतने के बाद हरियाणा सरकार ने उन्हें हरियाणा पुलिस में डीएसपी पद के साथ 21 लाख रुपये की पुरस्कार राशि देने की घोषणा कर दी। मौजूदा समय में जोगिंदर शर्मा हरियाणा पुलिस में बतौर डीएसपी अपनी सेवाएं दे रहे हैं।

जोगिंदर शर्मा का क्रिकेट करियर

PunjabKesari

टी-20 वर्ल्ड कप को अगर छोड़ दे तो जोगिंदर शर्मा का क्रिकेट करियर कुछ खास नहीं रहा। घरेलू क्रिकेट की अगर बात करें तो लिस्ट-ए क्रिकेट के 45 मैचों में उनके नाम 63 विकेट हैं। इसके अलावा फर्स्ट क्लास क्रिकेट के 44 मैचों में उन्होंने 200 विकेट लिए हैं, लेकिन अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में वो लंबी पारी नहीं खेल सके। साल 2011 में एक कार हादसे में वो गंभीर रूप से घायल हो गए थे। जिसके बाद वो कुछ समय के लिए घरेलू क्रिकेट से भी दूर रहे थे।

ट्विटर पर एक्टिव हैं जोगिंदर शर्मा

हरियाणा पुलिस में अपनी सेवाओं के साथ-साथ जोगिंदर शर्मा सोशल मीडिया पर एक्टिव रहते हैं और अपने अधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर वो क्रिकेट और अन्य मुद्दों को लेकर ट्वीट भी करते रहते हैं। वहीं आज उनके जन्मदिन पर उनके प्रशंसकों ने उन्हें जन्मदिन की बधाई दी।

.
.
.
.
.