Sports

गोल्ड कोस्ट: भारतीय हॉकी टीम का 21वें राष्ट्रमंडल खेलों में चिर प्रतिद्वंद्वी टीम पाकिस्तान के खिलाफ शनिवार को खेला गया हाईवोल्टेज उद्घाटन मैच आखिरी लम्हों में निराशा में बदल गया और खिताब की दावेदार मानी जा रही कप्तान मनप्रीत सिंह की टीम को 2-2 के ड्रा से संतोष करना पड़ा। मनप्रीत की कप्तानी में पुरूष टीम ने आस्ट्रेलिया के गोल्ड कोस्ट खेलों में पाकिस्तान के खिलाफ अपने पहले पूल बी हॉकी मैच में काफी अच्छी शुरूआत की। 

चिर प्रतिद्वंद्वी टीम के खिलाफ पिछले सात मैचों में अपराजेय भारत जीत की दावेदार के रूप में उतरी। लेकिन पाकिस्तान के लिए मोहम्मद इरफान जूनियर ने 38वें और फिर मैच समाप्ति से एक मिनट पहले अली मुम्बाशर ने 59वें मिनट में बराबरी का गोल दाग भारत से उसकी जीत छीन ली। 

मैच के पहले क्वार्टर में भारत की स्थिति मजबूत थी 

भारत के दिलप्रीत सिंह ने एस वी सुनील की मदद से मैदानी गोल से 13वें मिनट में ही भारत को 1-0 की बढ़त दिला दी जो उनका पहला अंतरराष्ट्रीय गोल भी है।फिर हरमनप्रीत सिंह के 19वें मिनट में गोल की बदौलत 2-0 से मजबूत बढ़त हासिल कर ली। पहले क्वार्टर के आखिरी में भारत को पेनल्टी कार्नर मिला लेकिन ड्रैग मिलकर रूपिंदर पाल सिंह इसे भुना नहीं सके। आखिरी दो क्वार्टर में कमजोर मानी जा रही कोच रोलैंट ओल्टमैंच की पाकिस्तानी टीम ने पूरे खेल को पलट कर रख दिया। ओल्टमैंस इससे पहले चार वर्षाें तक भारतीय टीम से बतौर हाई परफार्मेंस निदेशक और फिर मुख्य कोच के रूप में जुड़े रहे थे। 

.
.
.
.
.