Sports

नई दिल्ली : चेन्नई सुपर किंग्स की रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु पर जीत में अहम भूमिका चेन्नई के ओपनर रुतुराज गायवकाड़ की भी रही। गायकवाड़ ने आरसीबी के स्पिन गेंदबाजी के आगे स्टिक शॉट लगाए और अपनी टीम को जीत दिलाई। गायकवाड़ की बल्लेबाजी देखकर चेन्नई के बल्लेबाज फाफ डु प्लेसिस ने उनकी तारीफ की। फाफ ने कहा-  जिस तरह टूर्नामेंट में यंग टैलेंट उभरकर आ रहा है उसे देखकर अच्छा लगता है। खास तौर पर गायकवाड़। उन्होंने बेहद अच्छी पारी खेली।

फाफ ने कहा- कुछ युवा प्लेयरों ने शानदार खेल दिखाया। उन्होंने बताया कि वह भविष्य में चेन्नई के लिए काफी कुछ करेंगे। गायकवाड़ शानदार रहे। उन्होंने बताया कि उनमें बड़ा प्लेयर बनने की योग्यता है। हालांकि वह टूर्नामेंट में ज्यादा रन नहीं बना पाए हैं लेकिन एक बात उन्हें जो फायदा देगी कि ऐसी पारी उन्हें काफी आत्मविश्वास देगी। इससे आगे जाकर वह अपनी गेम में कई जरूरी बदलाव कर सकेंगे।

MS Dhoni, Faf du Plessis, RutuRaj Gaikwad, CSK, CSK vs RCB, Chennai Super Kings, IPL news in hindi, IPL 2020

वहीं, रुतुराज के प्रदर्शन पर कप्तान धोनी ने कहा- यह साल रुतु के साथ भी कठिन रहा है। उन्होंने चेन्नई में बल्लेबाजी की, फिर कोविड और क्वारेंटाइन में कीमती समय निकल गया। यहां तक कि आपने जो आखिरी गेम देखा, वह क्रिकेट में होता है, आप सबसे अच्छे गेंदबाजों का सामना करते हैं और आप सभी के खिलाफ रन बनाते हैं। आपको खुद की मदद करनी होगी, और जब आप बाहर होंगे तो आपको इसे अपने दिमाग से लड़ाना होगा। मुझे लगा कि उसने पहला हिट लगाने के बाद वास्तव में अच्छा प्रदर्शन किया। वह अपने आप को अधिक से अधिक सहज रखता है।

वहीं, मैच के दौरान विकेट पर बात करते हुए फाफ ने कहा- विकेट काफी धीमी थी। परिस्थितियों से बैलेंस बिठाने में समय लग रहा था। पिच धीमी थी तो हमने अपनी टीम में तीन स्पिनर रखे थे। यह हमारे काम भी आया। उन्होंने मजबूत बल्लेबाजी क्रम के खिलाफ शानदार गेंदबाजी की। दरअसल हम पिछले कुछ मैचों से देख रहे थे कि किस पिच पर स्पिनर अच्छा करते हैं। इसीलिए हम सेंटनर के साथ आए। वह अंतरराष्ट्रीय प्लेयर हैं। उन्होंने अच्छी गेंदबाजी की।

MS Dhoni, Faf du Plessis, RutuRaj Gaikwad, CSK, CSK vs RCB, Chennai Super Kings, IPL news in hindi, IPL 2020 

फाफ बोले- अकेले सेंटनर ही नहीं रविंद्र जडेजा और इमरान ताहिर भी हमारे लिए अच्छे रहे। हम तभी आगे हो गए थे जब हमने बेंगलुरु टीम को कम स्कोर पर रोक लिया था। क्योंकि पिच धीमी हो गई थी। 

.
.
.
.
.